Ticker

6/recent/ticker-posts

Gujarat: बीजेपी विधायक दल की बैठक आज, नए मुख्यमंत्री की घोषणा संभव

नई दिल्ली। गुजरात ( Gujarat ) में मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी ( Vijay Rupani Resings ) के त्यागपत्र के बाद रविवार को नए मुख्यमंत्री का नाम सामने आ सकता है। भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) के विधायक दल की दोपहर में बैठक होनी है।

इसी बैठक में विधायक दल का नया नेता चुना जाएगा जो गुजरात का अगला मुख्यमंत्री भी होगा। नए विधायक दल के नेता को चुने जाने के लिए भारतीय जनता पार्टी की तरफ से सभी विधायकों को अहमदाबाद पहुंचने का निर्देश दिया गया है। वहीं नरेंद्र सिंह तोमर और प्रहलाद जोशी रविवार को गांधी नगर पहुंचे। बता दें कि विजय रुपाणी ने शनिवार 11 सितंबर को राज्यपाल से मुलाकात के बाद अपने पद से इस्तीफा दे दिया।

यह भी पढ़ेंः Vijay Rupani Resigns: विजय रुपाणी के इस्तीफे के बाद मुख्यमंत्री पद की दौड़ में ये चार नाम आगे, जानिए क्या है वजह

वहीं प्रहलाद जोशी ने कहा कि विधायक दल की बैठक के साथ ही केंद्रीय नेतृत्व तय करेगा कि गुजरात का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा।

खास बात यह है कि इस दौरान केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह भी अहमदाबाद पहुंच सकते हैं।भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्ता यमल व्यास ने बताया कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह केंद्रीय पर्यवेक्षकों के साथ विधायक दल की बैठक में शामिल हो सकते हैं। हालांकि अब तक उनके पहुंचने की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

यह भी पढ़ेंः Vijay Rupani Resign: गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने राज्य चुनाव से एक साल पहले इस्तीफा दिया, जानिए इस्तीफे के बाद क्या कहा

इस फॉर्मूले पर लग सकती है मुहर
विजय रुपाणी के इस्तीफे के बाद आगामी विधानसभा चुनाव बीजेपी के लिए बड़ी चुनौती है। लिहाजा पार्टी ऐसा कोई भी कदम नहीं उठाना चाहेगी जिसका खामियाजा उन्हें चुनाव में भुगतना पड़े। ऐसे में राजनीतिक गलियारों में चर्चा है कि बीजेपी एक मुख्यमंत्री और 2 उप मुख्यमंत्री के फार्मूले के तहत नई टीम का गठन हो सकती है।
इससे सभी को संतुष्ट करने के साथ सभी समीकरणों को साधने की भी कोशिश की जाएगी।

सीएम रेस में ये नाम आगे
विधानसभा चुनाव को ध्यान में रखते हुए बीजेपी अब किसे गुजरात की कमान सौंपेगे ये बड़ा सवाल है। अटकलें कई नामों पर हैं लेकिन आधिकारिक तौर पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता है।

गुजरात के डिप्टी सीएम नितिन पटेल और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया के नाम सबसे आगे है। बता दें कि, मनसुख मंडाविया गुजरात से बीजेपी के राज्यसभा सांसद हैं। 49 साल के मनसुख मांडविया करीब 2 दशक से राजनीति में सक्रिय हैं।

वहीं नितिन पटेल का नाम आनंदीबेन पटेल को हटाए जाने के बाद भी चर्चा में रहा था, लेकिन कुछ कारणों से वे जगह नहीं बना पाए थे। अब पाटीदार समुदाय को साधने के लिए उन्हें मौका मिल सकता है।

नितिन पटेल को गुजरात सरकार में साल 2001 में वित्त मंत्री बनाया गया था। नितिन पटेल 6 बार के विधायक हैं और तीन दशक का उनका राजनीतिक करियर है।

1990 में पहली बार गुजरात विधानसभा से विधायक बने थे, नितिन पटेल उत्तरी गुजरात के रहने वाले हैं।
जबकि पशुपालन और डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रुपाला और बीजेपी विधायक आरसी फालदू भी मुख्यमंत्री की दौड़ में जगह बनाए हुए हैं।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3BYsy3g
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments