Ticker

6/recent/ticker-posts

बिहार की राजनीति में फिर लालू की वापसी, तेजस्वी ने बताया कब आ रहे हैं पिता

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनता दल (RJD) के सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu prasad Yadav) जल्‍द ही बिहार की राजनीति में वापसी कर रहे हैं। उनके छोटे बेटे और बिहार विधानसभा के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने इस संबंध में जानकारी साझा की है। उन्‍होंने बताया है कि लालू प्रासाद यादव की तबीयत में लगातार सुधार हो रहा है। डॉक्टरों का कहना है कि अगर ऐसा ही रह तो वे दो-तीन सप्‍ताह में बिहार आकर राजनीतिक रूप से सक्रिय हो जाएंगे।

किडनी की बीमारी से पीड़ित हैं लालू

तेजस्वी यादव बताया कि फिलहाल लालू प्रसाद यादव (lalu prasad yadav) दिल्‍ली में रहकर भी बिहार की राजनीति पर उनकी नजर रखते हैं। वे ट्विटर पर राजनीतिक रूप से सक्रिय रहते हैं और बिहार की जनता की समस्याओं के लिए आवाज उठाते हैं। बता दें कि लालू यादव ( former bihar cm lalu yadav) लंबे समय से किडनी की बीमारी से परेशान हैं और उनका पिछले कुछ महीनों से एम्स में इलाज चल रहा है।

lalluu_tejshwii.jpg

सीने में दर्द के बाद एम्स में भर्ती हुए थे लालू

जानकारी के मुताबिक देश में कोरोना महामारी (covid-19) की दूसरी लहर से पहले भी लालू प्रसाद यादव कुछ दिन एम्स (AIIMS) में भर्ती भी रहे थे। फिलहाल वह अपनी बेटी व राज्यसभा सदस्य मीसा भारती के दिल्ली स्थित आवास पर रह रहे हैं। कुछ दिन पहले ही लालू प्रसाद यादव की तबीयत नासाज होने के बाद उन्हें दिल्ली एम्स (Delhi AIIMS) ले जाया गया था। उनके सीने में दर्द की शिकायत थी। इस पर एम्स के कार्डियोलॉजी और नेफ्रोलॉजी डिपार्टमेंट में उनकी जांच की गई।

यह भी पढ़ें: तेज प्रताप ने जारी किया अपने संगठन का सिंबल, अब राजद की लालटेन पर टोक दिया दावा

सभी जरूरी जांच करने के बाद डॉक्टरों ने लालू प्रसाद यादव (lalu prasad yadav) से यह भी कहा कि फिलहाल उन्हें भर्ती होने की जरूरत नहीं है। उनकी जांच कार्डियोलॉजी के डॉक्टर राकेश यादव और नेफ्रोलाजी के डाक्टर संदीप महाजन ने की। बेहतर इलाज के लिए कुछ दवाएं बदलीं। इस दौरान लालू प्रसाद यादव तकरीबन एक घंटे तक एम्स (AIIMS) में रहे। इसके बाद उन्हें घर भेज दिया गया।

चारा घोटाला में सजायाफ्ता हैं लालू प्रसाद

गौरतलब है कि फिलहाल लालू प्रसाद यादव चारा घोटाला केस (chara ghotala) में सजायाफ्ता हैं, लेकिन आधी सजा पूरी करने के बाद से वे स्वास्थ्य कारणों से ही जमानत पर हैं। इससे पहले लालू यादव (lalu yadav) मार्च 2018 में भर्ती हुए थे और उन्हें अगले महीने अप्रैल में ही एम्स ने छुट्टी दे दी थी।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2XgIEqa
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments