Ticker

6/recent/ticker-posts

Ujjwala Yojana 2.0 पर कांग्रेस ने सरकार को घेरा, कहा- आसमान छू रही सिलेंडर की कीमत और सरकार वाहवाही लूट रही

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 10 अगस्त को यूपी के महोबा से उज्ज्वला योजना 2.0 की शुरुआत कर दी है। वहीं कांग्रेस ने इस पर केंद्र सरकार को घेरते हुए कहा कि दावों से उलट यह योजना भी सिर्फ जुमला साबित हुई है। बीजेपी की इस योजना का भी जनता को कोई लाभ नहीं मिलेगा।

सिलेंडर की कीमत 400 रुपए करे सरकार

दरअसल, कांग्रेस मीडिया विभाग के प्रमुख रणदीप सुरजेवाला का कहना है कि पिछले सात सालों में मोदी सरकार ने गैस सिलेंडर की सब्सिडी खत्म कर रसोई गैस के दाम को दोगुना कर दिया। यही वजह है कि रसोई गैस गरीबों की पहुंच से दूर हो चुकी है, लेकिन सरकार योजनाओं के नाम पर वाहवाही लूटने में लगी है। पार्टी ने उज्ज्वला योजना के तहत रसोई गैस सिलेंडर के दाम घटाकर 400 रुपए प्रति सिलेंडर करने की मांग की है। सुरजेवाला ने कहा है कि जब तक कीमतें नहीं घटाई जातीं तब तक गरीबों को इस योजना का फायदा नहीं मिल पाएगा।

4 करोड़ परिवारों ने दोबारा नहीं भरवाई गैस

सुरजेवाला का कहना है कि पीएम उज्ज्वला योजना के तहत करीब 8 करोड़ गरीब परिवारों को मुफ्त गैस कनेक्शन दिया गया था। इनमें से 4 करोड़ परिवारों ने मंहगाई की वजह से दोबारा गैस नहीं भरवाई है। इस लिहाज से उज्ज्वला योजना विफल रही है और यह न तो अपने घोषित लक्ष्यों को हासिल कर पाई, न ही गरीबों के लिए रसोई गैस ही उपलब्ध हुई है।

यह भी पढ़ें: Ujjwala Yojana 2021: यूपी के महोबा से आज उज्ज्वला योजना की शुरुआत करेंगे PM मोदी

वहीं सरकारी आंकडों के मुताबिक आठ करोड़ में से 40 प्रतिशत परिवारों ने कोरोना काल में तीन मुफ्त सिलेंडर की योजना का लाभ भी नहीं लिया। इसकी वजह है कि बीते नौ महीने में रसोई गैस की कीमतों में 240 रुपए प्रति सिलेंडर का इजाफा हुआ है। सुरजेवाला ने कहा कि भारत में रसोई गैस के दाम सऊदी कंपनी अरैमको के एलपीजी मूल्यों के आधार पर तय होते हैं, जो अब 611.14 डालर प्रति मीट्रिक टन है। इस आधार पर गैस मूल्य की गणना की जाए, तो वह 644 रुपए 18 पैसे प्रति सिलेंडर बनता है मगर आम जनता से 850 से लेकर 900 रुपए प्रति सिलेंडर वसूला जा रहा है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/37zAriA
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments