Ticker

6/recent/ticker-posts

Dinner Diplomacy: सिब्बल के घर जुटे विपक्षी नेता, बोले- बीजेपी के खिलाफ मिलकर लड़ना होगा

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल ( Kapil Sibal ) ने विपक्ष के नेताओं को डिनर ( Dinner Diplomacy ) पर बुलाया। इस डिनर पार्टी में 15 राजनीतिक दलों के करीब 45 शीर्ष नेताओं ने हिस्सा लिया। डिनर सिब्बल के तीन मूर्ति लेन स्थित आवास पर आयोजित किया गया था।

इस दौरान उन्होंने साल 2022 में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Election 2022) और साल 2024 के आम चुनावों (Lok sabha Chunav 2024) में विपक्षी दलों की एकता को मजबूत करने के साथ ही भारतीय जनता पार्टी ( BJP ) को हराने के लिए एकजुट होने पर चर्चा की। खास बात यह है कि इस डिनर पार्टी में कांग्रेस के जी-23 के वे सभी नेता मौजूद थे, जिन्होंने कांग्रेस में संगठनात्मक सुधार के लिए सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी थी।

यह भी पढ़ेंः बिहार में हो सकती है जातीय जनगणना! CM नीतीश ने दिए संकेत

106.jpg

कपिल सिब्बल की डिनर डिप्लोमेसी पार्टी उस वक्त हुई है जब कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी दो दिवसीय दौरे पर जम्मू-कश्मीर हैं। ऐसे में ये सवाल भी उठाए जा रहे हैं कि क्या राहुल की मौजूदगी में ज्यादा नेताओं को जुटाने में कांग्रेस को दिक्कत हो रही है या फिर ये एक नए विपक्ष के नेता को चुनने की शुरुआत है।

डिनर में आमंत्रित विपक्ष के एक नेता ने कहा, ‘एकता को और मजबूत करने के लिए ऐसी बैठकें और आयोजित की जानी चाहिए। हमें भाजपा को 2022 में पहले उत्तर प्रदेश में और फिर 2024 के आम चुनाव में हराना है।’

ये नेता प्रमुख रूप से थे शामिल
डिनर पार्टी में राजद ( RJD ) के लालू प्रसाद यादव, राकांपा (NCP) सुप्रीमो शरद पवार, समाजवादी पार्टी ( Samajwadi Party) के अखिलेश यादव और राम गोपाल यादव, माकपा ( MCP ) के सीताराम येचुरी, भाकपा के डी. राजा, नेशनल कांफ्रेंस ( NC ) के उमर अब्दुल्ला, आम आदमी पार्टी ( AAP ) के संजय सिंह, शिवसेना से संजय राउत, टीएमसी से डेरेक ओ ब्रायन भी मौजूद थे।

यह भी पढ़ेंः जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव से पहले राहुल गांधी की इस बात पर नजर, जानिए क्या है मामला

बीजेपी को हराने के लिए साथ आना होगा
कांग्रेस की ओर से कपिल सिब्बल के अलावा पी चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा समेत कई वरिष्ठ नेता शामिल थे। सभी नेताओं ने कहा कि उन्हें 2022 में उत्तर प्रदेश में और फिर 2024 के लोकसभा चुनावों में BJP को हराने के लिए एक साथ आना होगा।

पार्टी में पहुंचे एक वरिष्ठ नेता ने कहा, बीजेपी ने 'लोकतंत्र और सरकार पर नियंत्रण रखने वाली लोकतांत्रिक संस्थाओं को नष्ट कर दिया है।' उन्होंने कहा, 'हमें बीजेपी को हराना होगा और देश में लोकतंत्र बहाल करना होगा।'



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3lPFCDu
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments