Ticker

6/recent/ticker-posts

अपनी जांघों को लेकर स्विम सूट नहीं पहनती थीं मुमताज, फिरोज खान के कहने पर पहनी थी बिकिनी

नई दिल्ली। एक्ट्रेस मुमताज गुज़रे जमाने की मशूहर अभिनेत्रियों में से एक हैं। उनका अंदाज आज भी लोगों को दीवाना बना डाल देता है। मुमताज ने दो रास्ते, रोटी, आपकी कसम, और खिलौना जैसी शानदार फिल्में की हैं। ऐसे में उन्होंने फिल्म अपराध को लेकर अपना किस्सा शेयर किया है। जिसमें उन्होंने बताया कि कैसे फिरोज खान ने उन्हें बिकनी पहनने के लिए मनाया था। जानें पूरा किस्सा।

mumtaz

बिकनी पहनने पर बोलीं मुमताज

दरअसल, मुमताज ने बताया था कि उन्हें अपनी जांघों को लेकर बहुत कॉम्लैक्सिटी महसूस होती थी। इस इसका खुलासा मुमताज ने एक इंटरव्यू में किया था। मुमताज से जब फिल्म 'अपराध' में स्विमिंग सीन और बिकनी पहनने पर पूछा गया था। मुमताज ने जवाब देते हुए कहा था कि 'उन्होंने वो सीन किया था। लेकिन कभी भी उन्हें इस सीन के बारें में बताया नहीं गया था। उन्होंने पूल में एक या दो स्पलैश हैं। मुमताज ने बताया कि वो घुड़सवारी और साइकिल में काफी अच्छी थी। उन्होंने एक फिल्म में घोड़े की भी सवारी की थी।'

mumtaz

फिरोज खान ने बिकनी पहनने की दी सलाह

स्विम ड्रेस पहनने पर मुमताज ने बताया था कि उन्होंने रूप तेरा मस्ताना सॉन्ग में स्विमिंग ड्रेस पहनी थी। मुमताज ने बताया कि 'उन्होंने फिल्म 'अपराध' में बिकनी पहनी थी। उन्हें पहले अपनी जांघों को लेकर कॉम्प्लैक्सिटी थी।' मुमताज को लगता था कि 'बिकनी बहुत खुली होती है। लेकिन फिरोज खान ने उन्हें समझाया कि अगर वो इस सीन को करती हैं तो वो हटा देंगे। मुमताज बतातीं हैं कि जब उन्होंने वो सीन देखा तो उन्हें लगा कि वो बहुत सुंदर और सेक्सी लग रही हैं।'

Mumtaz

अभिनेत्रियों के पहनावे पर बोलीं मुमताज

बॉलीवुड में आज के अंदाज को लेकर मुमताज ने कहा कि 'अब सबकुछ बदल गया है। आज की सभी अभिनेत्रियां बोल्ड हैं। वो मेहनत भी करती हैं, लेकिन उन्होंने अपने जमाने में कभी भी ऐसे खुले कपड़े नहीं पहने थे। मुमताज ने पूछा कि क्या साड़ी में भी एक महिला ग्लैमरस नहीं दिखाई देती? और अगर इसे थोड़ा नीचे पहन लें तो? साथ ही मुमताज ने कहा था कि आज के गानों में भी कोई दम नहीं। आज के गाने याद नहीं रहते हैं।'

फिल्मों को बताया गंध

मुमताज ने आज की फिल्मों पर भी अपना पक्ष रखा। उन्होंने बताया कि 'आज की फिल्में गंध हैं। फिल्म में कोई कहानी नहीं होगी लेकिन बोल्ड सीन्स मौजूद होंगे।' मुमताज ने कहा कि 'सेक्स को दिखाने के लिए फिल्मों में नग्नता दिखाने की जरूरत क्यों हैं। क्या ये सिर्फ सजेस्टिव नहीं हो सकता? मुमताज ने ये भी सुझाव दिया कि डायलॉग्स में गलियां ना हो तो ज्यादा अच्छा है। मुमताज ने बताया कि आजकल सेंसर्स भी नहीं है।'



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3lKXFut
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments