Ticker

6/recent/ticker-posts

भारत के निर्यात को लेकर पीएम मोदी मिशनों के प्रमुखों से करेंगे बात, 400 अरब डॉलर पहुंचाने का लक्ष्य

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( PM Narendra Modi ) देश की निर्यात ( Exports ) स्थिति को लेकर शुक्रवार को एक अहम मीटिंग करेंगे। इस मीटिंग में वे भारतीय मिशन प्रमुखों, केंद्र और राज्यों के वरिष्ठ सरकारी अधिकारी समेत निर्यात संवर्धन परिषदों के प्रतिनिधियों को संबोधित करेंगे।

इस बैठक में साल 2021 में भारतीय निर्यात को 400 अरब डॉलर तक पहुंचाने का लक्ष्य होगा।

यह भी पढ़ेंः मोदी सरकार का बड़ा ऐलान, कोरोना से अनाथ बच्चों को दिया जाएगा 5 लाख रुपए का मुफ्त स्वास्थ्य बीमा

61.jpg

कोरोना काल में आई कमी को बूस्ट करने पर जोर
गुरुवार को जारी बयान में कहा गया कि इस संबोधन का उद्देश्य वैश्विक व्यापार में भारत के निर्यात के हिस्से को बढ़ाने पर ध्यान केंद्रित करना है। केंद्रीय वाणिज्य मंत्रालय और विदेश मंत्रालय के साथ आयोजित की जा रही इस महत्वपूर्ण बैठक में कोशिश होगी भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए निर्यात का बूस्टर डोज पाने की ताकि कोरोना काल में आई आर्थिक कमजोरी का इलाज किया जा सके।

ये लोग रहेंगे मौजूद
शुक्रवार शाम होने वाली इस बैठक को पीएम मोदी संबोधित करेंगे, जिसमें विभिन्न दूतावासों में मौजूद भारतीय राजनयिक और वाणिज्य प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे। बैठक को वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर के अलावा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।

जुलाई में 35.17 अरब डॉलर रहा निर्यात
बता दें कि देश का निर्यात जुलाई में 47.19 प्रतिशत बढ़ा है। बढ़ने के बाद बीते माह में ये 35.17 अरब डॉलर रहा। निर्यात में बढ़ोतरी की प्रमुख वजह पेट्रोलियम, इंजीनियरिंग और रत्न एवं आभूषणों के निर्यात में बढ़ना है। हालांकि मंत्रालय ने चालू वित्त वर्ष के लिए 400 अरब डॉलर का निर्यात लक्ष्य रखा है।

यह भी पढ़ेंः PM Kisan Samman Yojana: जानिए किन किसानों को नहीं मिलेंगे 9वीं किस्त के 2000 रुपए, जानिए क्या है वजह

आत्मनिर्भर भारत मिशन पर जोर

देश में बीते पांच महीने में लगातार निर्यात का आंकड़ा बढ़ा है। ये करीब 30 अरब डॉलर के पार रहा है। एक तरफ निर्यात में बढ़ोतरी ने थोड़ी राहत दी है तो दूसरी तरफ आयात का चढ़ता ग्राफ फिक्र बढ़ाने वाला है। ऐसे में पीएम मोदी के संबोधन में इस बात पर भी जोर दिया जा सकता है कि आत्मनिर्भर भारत मिशन को तेजी से बढ़ाया जाए, ताकि आयात के ग्राफ को नीचे की ओर किया जा सके।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3Cmpu1N
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments