Ticker

6/recent/ticker-posts

370 हटने से आतंकवादी ताकतों को लगा बड़ा झटका: तरुण चुग

बीजेपी के राष्ट्रीय महासचिव और जम्मू-कश्मीर के प्रभारी तरुण चुग का कहना है कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद विभाजनकारी और आतंकवादी ताकतों को बड़ा झटका लगा है, ये अपने आप में एक बड़ी उपलब्धि है। इससे क्षेत्र में विकास और प्रगति का माहौल बना है, जिससे जम्मू-कश्मीर को लोगों में नई उम्मीद जगी है।

पिछली सरकारों ने जनता को अधिकारों से रखा वंचित

दरअसल, 5 अगस्त 2021 को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के हटने के दो साल पूरे हो गए हैं। इस मौके पर बीजेपी प्रभारी तरुण चुग ने श्रीनगर में तिरंगा फहराया। तरुण ने 5 अगस्त के दिन को कश्मीर के लिए इसे ऐतिहासिक बताया। इसके साथ ही उन्होंने मुफ़्ती और अब्दुल्ला परिवार पर अपने निजी फायदे के लिए कश्मीर के जनता को उनके अधिकारों से वंचित रखने का आरोप लगाया और गुपकार गठबंधन को गुपकार गैंग करार दिया।

यह भी पढ़ें: उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर को दी नई फिल्म पॉलिसी-2021 की सौगात

राहत की सांस ले रहे घाटी के वाशिंदे

अनुच्छेद 370 के समाप्त होने की दूसरी वर्षगांठ पर जम्मू-कश्मीर के प्रभारी तरुण चुग ने पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि कई दशकों के बाद पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद बैकफुट पर है और घाटी के लोग राहत की सांस ले रहे हैं। इसके चलते लोगों में राष्ट्र विरोधी भावनाओं का स्थान विकास और प्रगति के समावेशी विचारों ने ले लिया है। स्वास्थ्य और शिक्षा की बुनियादी सुविधाओं में काफी सुधार हुआ है।

पीएम मोदी ने पांच अगस्त को बताया खास

देश के पीएम मोदी ने 5 अगस्त को जम्मू-कश्मीर सहित पूरे देश के लिए महत्वपूर्ण बताया था। पीएम मोदी ने कहा कि 2 साल पहले इसी तारीख को जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के प्रावधानों को समाप्त कर दिया गया था। जिससे जम्मू-कश्मीर के हर नागरिक को हर अधिकार और हर सुविधा का पूरा भागीदार बनाया गया था, जिससे उन्हें वह सुविधाएं दी जा सकें जो देश के अन्य राज्यों या केन्द्रशासित प्रदेशों को मिलती हैं।

यह भी पढ़ें: पंजाब विरोधी ताकतों को बढ़ावा दे रही कांग्रेस: तरुण चुघ

उपराज्यपाल ने दी ये सौगात

इस मौके पर जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर को नई फिल्म पॉलिसी 2021 की सौगात दी है। बता दें कि नई फिल्म पॉलिसी लॉन्च होने के दौरान बॉलीवुड अभिनेता आमिर खान और फिल्म निर्माता राजकुमार हिरानी भी मौजूद रहे। उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने खुद ट्वीट कर इस संबंध में जानकारी साझा की है।

गौरतलब है कि केंद्र ने पांच अगस्त 2019 को जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 खत्म किया गया था। इसके साथ ही पूर्ववर्ती राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में विभाजित कर दिया गया। वहीं राज्य के कई बड़े नेताओं को नजरबंद भी कर दिया गया था।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3CmUcb5
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments