Ticker

6/recent/ticker-posts

मोदी कैबिनेट के विस्तार से बिहार में बढ़ा सियासी पारा, उपेंद्र कुशवाहा से मिले JDU सांसद ललन सिंह

पटना। मोदी मंत्रिमंडल में विस्तार के साथ ही सियासी नफा-नुकसान के गणित को समझने और समझाने का सिलसिला शुरू हो गया है। वहीं, दूसरी तरफ मंत्री बनने की चाहत रखने वालों को जब निराशा हाथ लगी तो इसका असर भी अब दिखना शुरू हो गया है। दरअसल, मोदी कैबिनेट के विस्तार के साथ ही बिहार का सियासी पारा चढ़ गया है।

एनडीए में साथ रहने के बावजूद भी दो साल तक मोदी कैबिनेट में शामिल नहीं होने वाली जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) अब अचानक मंत्रिमंडल में शामिल हो गई है। जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिंह मोदी कैबिनेट में मंत्री बनाए गए हैं। ऐसे में अब ये सवाल उठाया जा रहा है कि आखिर 2019 में जेडीयू से एक मंत्री बनाए जाने पर नीतीश कुमार ने सांकेतिक भागीदारी से इनकार कर दिया था और अब उसी स्थिति में नीतीश कुमार क्यों और कैसे मान गए?

यह भी पढ़ें :- Modi Cabinet Expansion: पशुपति पारस को LJP से मंंत्री बनाए जाने पर चिराग पासवान ने जताया एतराज

दूसरी तरफ ये अटकलें लगाई जा रही थीं कि जेडीयू से दो या तीन मंत्री बन सकते हैं जिसमें से एक ललन सिंह होंगे। लेकिन जेडीयू से एक मंत्री बनाया गया और वह जेडीयू अध्यक्ष आरसीपी सिंह बने। लिहाजा, अब ललन सिंह नाराज चल रहे हैं। बताया जा रहा है कि मंत्री नहीं बनाए जाने को लेकर ललन सिंह नाराज हैं और जेडीयू के भीतर सबकुछ सही नहीं चल रहा है।

हालांकि, इन चर्चाओं के बीच अब जेडीयू संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने दावा किया है कि पार्टी के भीतर सबकुछ सही चल रहा है.. कोई भी किसी से नाराज नहीं है। उन्होंने कहा कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष होने के नाते आरसीपी सिंह ने केंद्र में मंत्री बनने का फैसला खुद लिया है।

उपेंद्र कुशवाहा से मिले ललन सिंह

सियासी हलचल के बीच बिहार की राजधानी पटना में जेडीयू सांसद ललन सिंह ने पार्टी के संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा से मुलाकात की। दोनों के बीच करीब एक घंटे तक बातचीत चली। मुलाकात के बाद ललन सिंह ने कहा कि मोदी कैबिनेट विस्तार के संबंध में सीएम नीतीश कुमार पहले ही कह चुके हैं.. ऐसे में मैं क्या बोलूंगा? उन्होंने आगे कहा कि जेडीयू में सबकुछ ठीक है। लेकिन बंद कमरे में क्या बात हुई ये तो सार्वजनिक नहीं हुई है, पर राजनीतिक माहौल जरूर गर्माया हुआ है।

यह भी पढ़ें :- Modi Cabinet Reshuffle: निभा रह थे बेटी की शादी की रस्म तभी आया मंत्री बनने का बुलावा, जानें- कौन हैं मोदी कैबिनेट में राज्यमंत्री बने पंकज चौधरी

मंत्री बनने के बाद आरसीपी ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि जेडीयू के हिस्से में एक सीट आई है.. इसपर विचार करने के बाद ही वे मंत्री बने हैं.. जब पत्रकारों ने ललन सिंह को मंत्री नहीं बनाए जाने पर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि मेरे और ललन बाबू में कोई अंतर है क्या?



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3ht2rKr
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments