Ticker

6/recent/ticker-posts

फिल्मों में मां का किरदार निभाने वाली निरूपा रॉय को लोग मनाते थे 'देवी', पैर छूकर सुनाते थे भजन

नई दिल्ली। हिंदी सिनेमा जगत में जब-जब फिल्में सुपरहिट हुई हैं। उनके किरदारों ने लोगों के दिलों में एक अलग छाप छोड़ दी है। वहीं जब भी बॉलीवुड में मां के किरदार की बात होती है। तो जुंबा पर सबसे पहला नाम मशहूर अभिनेत्री निरूपा रॉय का आता है। निरूपा रॉय ने अपने फिल्मी करियर में करीबन 200 से भी ज्यादा फिल्मों में काम किया था। जिसमें उन्होंने कई दिग्गज स्टार्स की मां की भूमिका को निभाया। आज भी दर्शको के दिमाग में जंजीर में अमिताभ बच्चन और निरूपा रॉय के डायलॉग मुंह जबानी याद हैं। जब भी मां के किरदार में निरूपा रॉय बड़े पर्दे पर आती हैं। वह दर्शकों की आंखों में आंसू ला देती। आज हम आपको एक्ट्रेस से जुड़ी कुछ अनसुने बातें बताने जा रहे हैं।

बतौर हीरोइन शुरू किया था फिल्म करियर

जब भी निरूपा रॉय का ख्याल लोगों के दिमाग में आता है। तो उनके आगे वही दुखी और आंखों में आंसू लिए मां की छवि सामने आ जाती हैं, लेकिन क्या आप जानते हैं। जब निरूपा रॉय ने अपना एक्टिंग करियर शुरू किया था। तब सबसे पहले हीरोइन का किरदार निभाया था। जी हां, फिल्म 'अमर राज' में वह अभिनेता त्रिलोक कपूर की हीरोइन बनी थीं। जब फिल्म रिलीज़ हुई तब दर्शकों को त्रिलोक और निरूपा की जोड़ी ने सबका दिल जीत लिया। जिसके बाद निरूपा और त्रिलोक ने लगभग 18 फिल्मों में साथ काम किया।

एक्ट्रेस को मिला खास टाइटल

फिल्म इंडस्ट्री में नाम कमाने के बाद उन्होंने करीबन 16 फिल्मों में मां का रोल अदा किया। इन फिल्मों में निरूपा ने मां का रोल इतनी बखूबी से निभाया कि उन्हें पूरे देश पर अपनी एक खास छवि छोड़ दी। जब भी मां के रोल की बात होती निरूपा रॉय का नाम टॉप पर होता। मां का किरदार निभाते हुए कब निरूपा रॉय लोगों के लिए देवी बन गईं यह बात शायद उन्हें भी कभी नहीं पता चली पाईं। बताया जाता है कि जब भी लोग एक्ट्रेस को देखते उनके पैर छूते। यही नहीं घर जाकर उनके लिए भजन गाते थे। मां के शानदार किरदार निभाने के चलते एक्ट्रेस को ‘Queen Of Misery’ के टाइटल से इंडस्ट्री में जाने जाना लगे।

15 साल की उम्र में हो गई थी निरूपा रॉय की शादी

एक्ट्रेस की पर्सनल लाइफ के बारें में बात करें तो उनका जन्म 4 जनवरी 1931 को हुआ था। वहीं निरूपा रॉय पढ़ाई में काफी दिलचस्पी रखती थीं, लेकिन उनके पिता का मनाना था कि लड़कियों को ज्यादा शिक्षा नहीं करवानी चाहिए। इसलिए उनके पिता ने महज 15 साल की उम्र में ही उनका विवाह करवा दिया था। शादी के बाद ही एक्ट्रेस ने अपना करियर फिल्म इंडस्ट्री में बनाया।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3utsjdc
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments