Coronavirus In Delhi: अव्यवस्था को लेकर अपनी सरकार के खिलाफ हुए AAP विधायक! राष्ट्रपति शासन की मांग

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में कोरोना वायरस ( Coronavirus In Delhi ) को लेकर हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं। रोजाना नए मामलों में तेजी से इजाफा हो रहा है। वहीं ऑक्सीजन से लेकर अस्पताल में बेड तक की कमी किसी से छिपी नहीं है। इन सबके बीच आम आदमी पार्टी ( Aam Aadmi Party ) के विधायक शोएब इकबाल ( Shoaib Iqbal ) ने अपनी ही पार्टी को लेकर बड़ा बयान दिया है।

कोरोना पर अव्यवस्थाओं को लेकर आप विधायक अपनी ही पार्टी के खिलाफ हो गए हैं। आप विधायक ने बदतर हालातों को लेकर राष्ट्रपति शासन लगाए जाने की मांग की है।

यह भी पढ़ेँः आयुष मंत्रालय का दावाः Coronavirus के हल्के लक्षणों में कारगर 'आयुष 64' दवा, शुगर के मरीजों के लिए भी बेहतर

आप विधायक शोएब इकबाल का कहना है कि कोरोना से राजधानी दिल्ली में स्थित बदतर हो गई है। दिल्ली में कोई सुनने वाला नहीं है। राजधानी में ना बेड है, ना ऑक्सिजन है, ना दवाइयां मिल रही है। यहां कोई काम नहीं हो रहा है। ऐसे में दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए।
उन्होंने कहा कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो दिल्ली की सड़कों पर लाशें बिछ जाएंगी।

हाईकोर्ट में की अपील
दिल्ली के मटियामहल से विधायक शोएब इकबाल ने ये मांग कोरोना के कारण दिल्ली में पैदा हुई मौजूदा परिस्थितियों को लेकर की है। आप विधायक ने हाईकोर्ट से भी अपील की है कि दिल्ली में फैल रही अव्यवस्था को देखते हुए अब यहां राष्ट्रपति शासन लग जाना चाहिए।

यह भी पढ़ेंः देश में Coronavirus का कहर जारी, बीते 24 घंटे में रिकॉर्ड 3.87 लाख नए केस आए सामने, जानिए क्या रहा मौत का आंकड़ा

केंद्र से नहीं मिल रहा सहयोग
हालांकि दिल्ली में अव्यवस्थाओं को लेकर शोएब इकबाल ने कहा कि हमें केंद्र से सहयोग नहीं मिल रहा है। अगर केंद्र के हाथ में सबकुछ आएगा तो काम हो पाएगा। तीन महीने के लिए दिल्ली में राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाना चाहिए।

आपको बता दें कि राजधानी दिल्ली में रोजाना नए मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिल रही है। बीते 24 घंटों की बात करें तो 24,235 नए मामले सामने आए हैं। जबकि 395 लोगों ने महामारी के चलते अपने जान गंवाई है।
सक्रिय मामलों की बात करें तो दिल्ली में 97977 एक्टिव केस मौजूदा समय में हैं। कुल मामले 11 लाख 22 हजार 286 हैं। अब तक राजधानी में कोरोना वायरस के चलते 15772 लोग दम तोड़ चुके हैं।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3ubi5y0
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.