अकाउंट होल्डर्स को बड़ी राहत, पेमेंट एप से अब रुपया ट्रांसफर कर सकेंगे दोगुना

नई दिल्ली। भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पेमेंट बैंक के जरिए एक दिन में ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर करने की सीमा को बढ़ाकर दो लाख रुपए कर दिया गया है आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास की ओर से सीमा बढ़ाने के केंद्रीय बैंक के फैसले की घोषणा किए जाने के एक दिन बाद आरबीआई ने आधिकारिक तौर पर इसकी घोषणा कर दी है।

यह भी पढ़ेंः- रियल एस्टेट में लौटी रिकवरी, तीन महीनों में घरों की बिक्री में 12 फीसदी का इजाफा

दोगुना कर दी लिमिट
ऑनलाइन पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए आरबीआई ने नई क्रेडिट पॉलिसी का ऐलान किया है। यह पॉलिसी आपके ऑनलाइन पेमेंट, मोबाइल पेमेंट, कार्ड पेमेंट के लिए है। इस पॉलिसी का असर मोबाइल पेमेंट एप पर होगा। पहले जहां एक दिन में रुपए ट्रांसफर करने की सीमा सिर्फ एक लाख रुयए की थी, वहीं अब इसे दोगुना कर दिया गया है।

इस पर भी हो सकता है विचार
आरबीआई का कहना है कि वित्तीय समावेशन को आगे बढ़ाने और पेमेंट बैंकों को अधिक लचीलापन बनाने के उद्देश्य से ही अधिकतर सीमा को बढ़ाया गया है। आरबीआई की ओर से पेमेंट बैक सीईओ को जारी एक सर्कुलर में यह भी कहा गया है कि पेमेंट्स बैंकों के प्रदर्शन को देखने के बाद आरबीआई अधिकतम बैलेंस लिमिट बढ़ाने पर भी विचार कर सकता है।

यह भी पढ़ेंः- Petrol Diesel Price Today: 10 दिन से दिल्ली और एनसीआर के शहरों में नहीं हुआ बदलाव, आज इतने चुकाने होंगे दाम

इसे पहले एनईएफटी और आरटीजीएस पर दी थी राहत
केंद्रीय बैंक आरबीआई ने वित्त वर्ष 2021-22 की पहली मॉनेटरी पॉलिसी में अहम फैसला लिया है। नॉन-बैंक पेमेंट संस्थानों के लिए आरबीआई द्वारा संचालित केंद्रीयकृत पेमेंट सिस्टम आरटीजीएस और एनईएफटी की सदस्यता की अनुमति दी गई है। आरबीआई के इस प्रस्ताव से पीपीआई, कार्ड नेटवक्र्‍स, वाइड लेवल एटीएम ऑपरेटर्स जैसे नॉन-बैंक पेमेंट सिस्टम भी केंद्रीय बैंक द्वारा संचालित की जाने वाली आरटीजीएस और एनईएफटी की सदस्यता ले सकेंगे।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/2Qd19rC
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.