रणधीर कपूर और बहन रीमा जैन ने दिवंगत भाई राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर जताया अपना हक, कोर्ट ने कही दो टूक बात

नई दिल्ली | कपूर खानदान हिंदी सिनेमा में कई सालों से अपनी पहचान बनाए हैं। पृथ्वीराज कपूर के जमाने से ये परिवार पीढ़ी दर पीढ़ी आगे बढ़ रहा है। राज कपूर के भाइयों के जाने के बाद अब उनके बच्चे भी एक-एक करके अलविदा कह रहे हैं। इसी साल राज कपूर के सबसे छोटे बेटे राजीव कपूर का निधन दिल का दौरा पड़ने से हो गया था। कपूर खानदान की इस पीढ़ी में राज कपूर के सबसे बड़े बेटे रणधीर कपूर और बेटी रीमा जैन जिंदा हैं। अब इन दोनों ने अपने गुजरे हुए भाई राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर अपना हक जताया है। जिसके लिए उन्होंने हाईकोर्ट में एक पेटिशन भी फाइल कर दी है।

भाई की संपत्ति पर जताया हक

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो राजीव कपूर की प्रॉपर्टी में रणधीर और रीमा ने अपना हक जताया है। हालांकि कोर्ट ने राजीव कपूर की पत्नी से तलाक का प्रूफ मांगा है। राजीव कपूर और उनकी पत्नी आरती सबरवाल अलग रहा करते थे। दोनों के बीच किसी बात को लेकर अनबन बताई जाती है। हालांकि दोनों का तलाक हुआ है या नहीं इसपर अभी भी संशय बना हुआ है। कारण है कि रणधीर और रीमा ने तलाक के पेपर ना मिलने की बात कोर्ट में बताई है।

कोर्ट ने मांगा तलाक का सबूत

ऐसा कहा जाता है कि राजीव कपूर ने आरती से साल 2001 में शादी की थी लेकिन 2003 में दोनों ने अलग होते हुए तलाक ले लिया था। लेकिन तलाक के पेपर ना मिलने से मामला अटक गया है। रणधीर और रीमा के वकील ने कहा है कि यही दोनों राजीव कपूर की प्रॉपर्टी के हकदार हैं। जिस पर सुनवाई में हाईकोर्ट ने तलाक का कोई भी सबूत मांगा है। कोर्ट ने ये भी कहा कि अगर तलाक के काजल नहीं मिलते हैं तो एक स्वीकृति पत्र दिखाना होगा।

रणधीर और रीमा के वकील ने मांगी छूट

रणधीर कपूर और रीमा जैन के वकील ने कोर्ट में कहा कि तलाक के पेपर नहीं मिले हैं। ऐसे में उन्हें नहीं पता है कि किस फैमिली कोर्ट ने तलाक का आदेश जारी किया था। लेकिन राजीव कपूर की प्रॉपर्टी पर सिर्फ भाई और बहन का ही हक है। इसलिए तलाक के पेपर पेश करने से छूट दी जानी चाहिए।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3dSyPEz
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.