कोविड काल में अटल पेंशन योजना में दिखा निवेशकों का ज्यादा भरोसा, 3 करोड़ से ज्यादा हुए सब्सक्राइबर्स

नई दिल्ली। छोटी बचत योजनाओं में निवेश करना हमारे देश में काफी समय से प्रचलित है। वहीं कुछ ही सालों पहले लांच की गई अटल पेंशन योजना इतनी बड़ी हिट हो जाएगी इसका अंदाजा किसी को भी नहीं था। खासकर कोविड काल में तो इसमें निवेश करने वालों की संख्या में इजाफा लगातार देखने को मिला है। गुरुवार को पेंशन फंड रेगुलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी यानी पीएफआरडीए की ओर से जारी हुए आंकड़ों पर बात करेंं तो 3 करोड़ से ज्यादा हो चुकी है। बीते 6 महीनों में इसकी संख्या में 50 लाख से ज्यादा का इजाफा देखने को मिला है। आइए आपको भी बताते हैं कि किस एपीवाई के किस तरह के आंकड़े सामने आए हैं।

यह भी पढ़ेंः- Sail ने Oxygen Production की उठाई जिम्मेदारी, अब तक 36,747 मीट्रिक टन की कर चुकी सप्लाई

तीन करोड़ हुई एपीवाई निवेशकों की संख्या
पीएफआरडीए के आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2020-21 में 79 लाख से अधिक नए सब्सक्राइबर एड हुए हैं। जिसके बाद इसकी कुल संख्या 3.02 करोड़ हो गई है। जिसमें से करीब 70 फीसदी अकाउंट्स पीएसयू बैंक्स और 19 फीसदी अकाउंट्स रिजनल रूरल बैंक्स में खोले गए हैं। खास बात तो ये है कि वित्त वर्ष 2020-21 की दूसरी छमाही में इस योजना से जुडऩे वाले सब्सक्राइबर की संख्या में 50 लाख से ज्यादा का इजाफा हुआ है। इस दौरान एपीवाई सब्सक्राइबर की संख्या ढाई से तीन करोड़ हो गई है।

यह भी पढ़ेंः- हैमलीज के बाद मुकेश अंबानी ने यूके की एक और कंपनी को 593 करोड़ में खरीदा

किस बैंक ने कितने अकाउंट हुए एड
इस योजना से 79.14 लाख नए सब्सक्राइबर जुड़े, जिसमें से 28 फीसदी यानी 22.07 लाख सब्सक्राइबर भारतीय स्टेट बैंक ने जोड़े। केनरा बैंक के पास 5.89 लाख और इंडियन बैंक ने 5.17 लाख नए सब्सक्राइबर को एड किया। वहीं बैंक ऑफ बड़ौदा, एयरटेल पेमेंट्स बैंक, बैंक ऑफ इंडिया, सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया, पंजाब नेशनल बैंक, यूनियन बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन ओवरसीज बैंक, एक्सिस बैंक, एचडीएफसी बैंक, आर्यवर्त बैंक और बड़ौदा यूपी बैंक आदि ने एक से पांच लाख नए एपीवाई खाते एड हुए हैं।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3sPX6iY
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.