अनिल देशमुख के मुद्दे पर राज्यसभा दो बजे तक के लिए स्थगित

नई दिल्ली। महाराष्ट्र में जारी सियासी घमासान का असर देश की राजधानी तक पहुंच गया है। परमबीर सिंह की चिट्ठी कांड के बाद सोमवार को राज्यसभा में केंद्रीय मंत्रियों और बीजेपी के सांसदों ने इस मुद्दे को उठाया। केंद्रीय पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर सहित महाराष्ट्र बीजेपी के नेताओं ने भ्रष्टाचार के मुद्दे को सदन में उठाया। बीजेपी सांसदों ने इस मुद्दे पर राज्यसभा में जमकर हंगामा भी मचाया। भ्रष्टाचार के मुद्दे पर बीजेपी के हंगामे को देखते हुए राज्यसभा को दोपहर 2 बजे तक के लिए स्थगित कर दिय गया।

सचिन वाझे के समर्थन में सीएम की प्रेस कॉन्फ्रेंस

लोकसभा में भारतीय जनता पार्टी के सांसद राकेश सिंह ने इस मुद्दे को उठाते हुए कहा कि शायद देश के सियासी इतिहास में पहली घटना है जब महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे एपीआई सचिन वाझे के समर्थन में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हैं। उस एपीआई के खिलाफ वो कॉन्फ्रेंस करते हैं जिसे उन्हीं के गृह मंत्री न हर माह 100 करोड़ रुपए वसूली का आदेश दिया था।

राकेश सिंह ने कहा कि सीएम की नजर में सचिन वाझे देश के सबसे अच्छे पुलिस कर्मचारियों में से एक है। लेकिन ताज्जुब की बात यह है कि उसी अधिकारी को उगाही करने की जिम्मेदारी भी सौंपी जाती है।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3f4oDtI
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.