बिहार: विधायकों से मारपीट पर बोले तेजस्वी- हमारी आवाज को कुचला गया

नई दिल्ली। बिहार विधानसभा में मंगलवार को अजीबोगरीब स्थिति उत्पन्न हो गई, जब विपक्षी सदस्यों ने अध्यक्ष को उनके कक्ष में ही रोके रखा। बाद में सुरक्षाकर्मियों द्वारा इन विधायकों को हटाया गया। इसके बाद भी हंगामा होता रहा। विपक्षी दल के सदस्यों ने बिहार विशेष सशस्त्र पुलिस विधेयक के विरोध में जमकर हंगामा किया। इस दौरान विधानसभा की कार्यवाही कई बार स्थगित करनी पड़ी। वहीं, नेता प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि हम बोलना चाहते थे, लेकिन हमें कुचल दिया गया।

बिहार विधानसभा में विधायकों और सुरक्षाबलों में हाथापाई, पुलिस विधेयक के दौरान हंगामा

तेजस्वी यादव ने कहा कि इस कानून का मतलब बिना वारंट के किसी भी शख्स के लिए दबिश देना और केवल शक के बिना पर किसी को भी गिरफ्तार कर लेना है। अगर ऐसा है तो भी अदालत और न्यायधीशों की क्या जरूरत है। आपको बता दें कि विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा जब सदन की कार्यवाही स्थगित कर अपने कक्ष में बैठे थे, तभी विपक्षी दल के सदस्य उनके कक्ष के सामने धरने पर बैठ गए। साढ़े चार बजे जब वे कार्यवाही प्रारंभ करने के लिए जाने की कोशिश की तो उन्हें जाने नहीं दिया गया।

 



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/3lKgRqg
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.