चालू वित्त वर्ष 2020-21 में कंपनियों ने जुटाए 31,000 करोड़ रुपए

मुंबई । वैश्विक बाजारों में तरलता की बेहतर स्थिति तथा घरेलू शेयर बाजारों में तेजडिय़ा दौड़' के चलते भारतीय कंपनियों ने चालू वित्त वर्ष (2020-21) में आरंभिक सार्वजनिक निर्गमों (आइपीओ) से 31,000 करोड़ रुपए जुटाए हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि अगले वित्त वर्ष 2021-22 के लिए भी आइपीओ पाइपलाइन काफी मजबूत बनी हुई है। यह पिछले तीन साल के दौरान आइपीओ से जुटाई गई राशि का सबसे ऊंचा आंकड़ा है। आइआइएफ एल सि€योरिटीज के मुख्य कार्यपालक अधिकारी संदीप भारद्वाज ने कहा कि आइपीओ पाइपलाइन काफी मजबूत है।

28 कंपनियों के पास 28,710 करोड़ -
रुपए जुटाने को आइपीओ के लिए भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड की मंजूरी है। सेंट्रम कै पिटल के प्रबंध निदेशक राजेंद्र नाइक ने कहा कि 2021-22 में एलआइसी, एचडीबी फाइनेंशियल सर्विसेज, एनसीडीई ए€स, ईएसएएफ स्मॉल फाइनेंस बैंक का आइपीओ आने की उ्मीद है। विश्लेषकों के अनुसार, शेयर बाजारों के पास उपलŽध आंकड़ों के अनुसार, 2020-21 में 30 कंपनियों ने आइपीओ के जरिये 31,277क रोड़ रुपए जुटाए।



from Patrika : India's Leading Hindi News Portal https://ift.tt/39mYq5V
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.