Ticker

6/recent/ticker-posts

Advertisement

अमेरिका में फाइजर के बाद मॉडर्ना वैक्सीन को भी मंजूरी; इटली में क्रिसमस पर लॉकडाउन रहेगा
















दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 7.59 करोड़ के ज्यादा हो गया। 5 करोड़ 32 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 16 लाख 80 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। अमेरिका ने फाइजर के बाद मॉडर्ना की वैक्सीन को भी मंजूरी दे दी है। ट्रम्प एडिमिनिस्ट्रेशन ने इस वैक्सीन को मंजूरी के पहले ही बड़े पैमाने पर ऑर्डर दे दिया था। इटली सरकार ने साफ कर दिया है कि वो इस साल क्रिसमस पर भी किसी तरह की ढील बरतने नहीं जा रही। देश में लॉकडाउन रहेगा।

अमेरिका में दूसरी वैक्सीन को मंजूरी
अमेरिका ने दो हफ्तों में दूसरी वैक्सीन को मंजूरी दे दी है। फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने शुक्रवार रात मॉडर्ना के वैक्सीन को मंजूरी दे दी। इसके पहले फाइजर के वैक्सीन को मंजूरी दी गई थी। दोनों मामलों में एक चीज कॉमन रही। दोनों को मंजूरी देने के लिए FDA के ही एक पैनल ने जल्द मंजूरी देने का दबाव बनाया। हालांकि, यह पैनल भी अमेरिकी एक्सपर्ट्स का ही था। इस वैक्सीन को भी RNA टेक्नोलॉजी से ही तैयार किया गया है।

न्यूज एजेंसी ने अमेरिकी अधिकारियों के हवाले से कहा कि इस हफ्ते के अंत तक मॉडर्ना करीब 60 लाख वैक्सीन अमेरिकी सरकार को सौंप देगी। मॉडर्ना के वैक्सीन को मंजूरी करीब 30 हजार वॉलेंटियर्स पर तीन फेज के ट्रायल के बाद दी गई है। ट्रायल के दौरान इसे 95% इफेक्टिव पाया गया। FDA कमिश्नर स्टीफन एम हान ने कहा- अब हमारे पास कोविड-19 से निपटने के लिए दो वैक्सीन हैं। इनका इस्तेमाल व्यापक स्तर पर शुरू कर दिया गया है। अमेरिका में दो करोड़ वैक्सीन पहुंच चुकी हैं। माना जा रहा है कि अगले साल के अंत तक यह संख्या 20 करोड़ हो जाएगी। ये फुल डोज होंगे।

इटली में मायूसी
इटली सरकार ने शुक्रवार रात साफ कर दिया कि इस बार क्रिसमस पर कोरोना का घना साया होगा। सरकार के मुताबिक, क्रिसमस पर इटली में लॉकडाउन रहेगा। इटली और यूरोप के बाकी देशों में सोमवार से फेस्टिव सीजन शुरू हो रहा है। इस दौरान अलग-अलग देशों में 7 से 10 दिन की छुट्टी होगी। फ्रांस और जर्मनी ने तो 24 से 26 दिसंबर के बीच राहत का ऐलान किया है लेकिन, इटली ने साफ कर दिया है कि वो राहत देने के मूड में नहीं है। इसकी वजह यह है कि यहां संक्रमण और मौतें अब भी बहुत ज्यादा कम नहीं हुई हैं।

सरकार के मुताबिक, लॉकडाउन का फैसला न तो जल्दबाजी में लिया गया है और न वो लोगों पर प्रतिबंध थोपना चाहती। यह फैसला मजबूरी में और दुखी होकर लिया गया है।

सऊदी में वैक्सीनेशन शुरू
सऊदी अरब ने गुरुवार से अपने यहां कोरोना की वैक्सीन लगाने का अभियान शुरू कर दिया है। पहली वैक्सीन देश के हेल्थ मिनिस्टर डॉ. तौफीक अल रबिह को लगाई गई। मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। देश में अब तक तीन लाख 60 हजार 516 मरीज मिल चुके हैं। इनमें 6 हजार 91 जान गंवा चुके हैं।

वैक्सीन लगवाने के बाद डॉ. तौफीक ने कहा कि यह एक बड़ी समस्या के खत्म होने की शुरुआत है। उन्होंने देश के सबसे बड़े वैक्सीनेशन प्रोग्राम की शुरुआत का ऐलान किया। अब तक अमेरिका, कनाडा, ब्रिटेन, बहरीन और रूस अपने यहां यह ड्राइव शुरू कर चुके हैं।

कोरोना प्रभावित टॉप-10 देशों में हालात

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 17,886,219 320,828 10,392,547
भारत 10,004,825 145,171 9,549,923
ब्राजील 7,163,912 185,687 6,198,185
रूस 2,791,220 49,762 2,228,633
फ्रांस 2,409,062 59,361 180,311
तुर्की 1,955,680 17,364 1,721,607
ब्रिटेन 1,913,277 65,520 N/A
इटली 1,906,377 67,220 1,203,814
स्पेन 1,782,566 48,596 N/A
अर्जेंटीना 1,517,046 41,365 1,347,914

(आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं)



from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38m5FcK
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments