इटली में एक दिन में 993 लोगों की मौत, क्रिसमस और न्यू ईयर पर भी राहत के आसार नहीं

दुनिया में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 6.48 करोड़ के पार हो गया। 4 करोड़ 53 लाख से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक 15 लाख 11 हजार से ज्यादा लोग जान गंवा चुके हैं। ये आंकड़े https://ift.tt/2VnYLis के मुताबिक हैं। फ्रांस जैसे यूरोपीय देशों में जहां संक्रमण कम हुआ है तो इटली इस मामले में पिछड़ गया है। यहां संक्रमण भी बढ़ रहा है और मौतें भी। गुरुवार को एक ही दिन में 993 लोगों की मौत हुई।

इटली में क्रिसमस पर भी प्रतिबंध
इटली में गुरुवार को संक्रमण की परेशान करने वाली तस्वीर सामने आई। यहां एक ही दिन में 993 लोगों की मौत हो गई। देश के अस्पतालों में हालात खराब हो रहे हैं। ज्यादातर अस्पतालों को अगर यही हालात रहे तो मेकशिफ्ट वॉर्ड बनाने होंगे। इस बीच इटली सरकार ने सख्ती दिखानी शुरू कर दी है। प्रधानमंत्री गिसेप कोन्टे ने कहा कि क्रिसमस और न्यू ईयर पर आधी रात को होने वाली पार्टियां नहीं होंगी। एक शहर से दूसरे शहर तक यात्रा नहीं करे सकेंगे। पीएम ने कहा- महामारी शुरू होने के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा मौतें हुई हैं। लिहाजा, हम किसी तरह की ढील नहीं दे सकते। नए प्रतिबंधों के तहत सिर्फ वर्कर्स को कहीं आने-जाने की मंजूरी दी जाएगी।

बाइडेन अपील करेंगे
माना जा रहा है कि अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन शपथ लेने के बाद अमेरिकी लोगों से 100 दिन तक मास्क लगाने की अपील करेंगे। इस बारे में उनकी कैम्पेन टीम रणनीति बना रही है। अमेरिका में कोरोना के मामले बढ़ते जा रहे हैं और यहां मौतें भी कम नहीं हो रही है। कमला हैरिस भी कह चुकी हैं कि देश के लोगों को एकजुट होकर महामारी का सामना करना होगा।

प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन की कैम्पेन टीम के मुताबिक, बाइडेन शपथ लेने के बाद अमेरिका के लोगों से 100 दिन तक मास्क लगाने की अपील करेंगे।

ब्रिटेन की वैक्सीन पर सवाल
ब्रिटेन में जल्द वैक्सीन को मंजूरी देने के मामले में कुछ नेताओं ने सवाल उठाए हैं। ब्रिटेन सरकार ने दो दिन पहले फाइजर की वैक्सीन को मंजूरी दी थी। जर्मनी के हेल्थ मिनिस्टर जेन्स स्पाह्न ने कहा- हम भी जल्द वैक्सीन लाने के लिए हर संभव कोशश कर रहे हैं लेकिन, इसके लिए यूरोपीय यूनियन के मेडिकल रेग्युलेटर की मंजूरी बेहद जरूरी है। हम ये साफ कर देना चाहते हैं कि ब्रिटेन और यूरोपीय देशों के बीच इस मामले को लेकर कुछ फर्क है। हम जल्दबाजी का जोखिम नहीं ले सकते। हो सकता है इस महीने के आखिर तक हमारे पास भी एक सेफ वैक्सीन हो।

फेसबुक सतर्क
कोरोना वैक्सीन को लेकर सोशल मीडिया पर तमाम तरह के दावे और वादे किए जा रहे हैं। अब फेसबुक ने इन मामलों पर सख्ती से एक्शन लेने का दावा किया है। फेसबुक ने एक बयान में कहा कि कई लोग वैक्सीन को लेकर गलत बातें फैला रहे हैं और यह आम लोगों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है। अब हर उस दावे की जांच की जाएगी जो इस बारे में किया जा रहा है। हम यही कोशिश करेंगे कि लोगों तक सिर्फ सही जानकारी पहुंचे।



from Dainik Bhaskar https://ift.tt/39E8SXt
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.