Header Ads

Seo Services

धोनी और रैना जैसे बड़े क्रिकेटर्स ने संन्यास लिया; टी-20 वर्ल्ड कप टला, लेकिन IPL हुआ
















2020 खत्म होने में बस कुछ ही दिन बचे हैं। कोरोना की वजह से सभी खेलों को बहुत नुकसान पहुंचा। क्रिकेट भी इससे अछूता नहीं रहा। कोरोना की वजह से ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी-20 वर्ल्ड को भी 2022 तक टाल दिया गया। हालांकि, क्रिकेट ने वापसी की और कोरोनाकाल में इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) का आयोजन हुआ, लेकिन खिलाड़ियों को दर्शकों की कमी खली।

कोरोनाकाल में ज्यादातर मैच बिना दर्शकों के खेले गए। खिलाड़ियों को बायो-बबल में रहना पड़ा। हालांकि, धीरे-धीरे दर्शकों की वापसी हुई। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुई टी-20 सीरीज में पहली बार 100% दर्शकों को स्टेडियम आने की इजाजत मिली। इसके अलावा 2020 में महेंद्र सिंह धोनी, सुरेश रैना जैसे कुछ बड़े खिलाड़ियों ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कह दिया।

IPL के दौरान खाली पड़े स्टेडियम।

सबसे पहले इरफान पठान ने संन्यास लिया

2020 की शुरुआत भारत के बेहतरीन ऑलराउंडर्स में शुमार इरफान पठान के संन्यास के साथ हुई। उन्होंने 4 जनवरी को क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास लेने का ऐलान किया। इसके बाद आया 'पोस्ट धोनी एरा' यानी धोनी के बाद का समय। वर्ल्ड के बेस्ट मैच फिनिशर धोनी ने इस साल अपने 16 साल के इंटरनेशनल करियर पर पूर्ण विराम लगा दिया।

धोनी ने 15 अगस्त को इंटरनेशनल क्रिकेट के सभी फॉर्मेट से संन्यास का ऐलान किया। धोनी के नेतृत्व में ही भारत ने 2007 टी-20 वर्ल्ड कप और 2011 वनडे वर्ल्ड कप अपने नाम किया था। वहीं, टीम इंडिया ने 2013 में चैम्पियंस ट्रॉफी भी जीती थी। वे ICC के सभी ट्रॉफी जीतने वाले एकमात्र कप्तान हैं।

धोनी के इंटरनेशनल रिकॉर्ड्स :

  • ICC के 3 टूर्नामेंट टी-20 वर्ल्ड कप (2007), वनडे वर्ल्ड कप (2011) और चैम्पियंस ट्रॉफी (2013) जीतने वाले दुनिया के एकमात्र कप्तान।
  • धोनी ने 332 इंटरनेशनल मैच (200 वनडे, 60 टेस्ट, 72 टी-20) में भारत की कप्तानी की, जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 324 मैच में कप्तानी के साथ दूसरे नंबर पर हैं।
  • धोनी मल्टी-नेशन वनडे टूर्नामेंट में सबसे सफल भारतीय कप्तान हैं। उन्होंने भारत को 6 मल्टी-नेशन वनडे टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंचाया। इसमें से 4 में भारतीय टीम ने जीत हासिल की।
  • धोनी 84 वनडे में नॉट आउट रहे, जो कि एक वर्ल्ड रिकॉर्ड है। इसके बाद दूसरा नंबर साउथ अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर शॉन पोलक (72 नॉट आउट) का है।
  • 84 नॉट आउट में से 51 बार धोनी चेज करते हुए नॉट आउट रहे। इसमें से 47 बार भारत ने मैच जीता, 2 मैच टाई रहे और 2 में टीम को हार मिली।
  • धोनी के नाम इंटरनेशनल क्रिकेट में सबसे ज्यादा स्टंपिंग करने का रिकॉर्ड है। उन्होंने 350 मैचों में 123 स्टंपिंग की। वे इंटरनेशनल मैच में 100 स्टंपिंग करने वाले एकमात्र प्लेयर हैं।

रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट को अलविदा कहा

उनके साथ ही भारतीय लोअर मिडल ऑर्डर की जान रहे सुरेश रैना ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया। वहीं, सबसे कम उम्र में बतौर विकेटकीपर टेस्ट में डेब्यू करने वाले पार्थिव पटेल ने भी क्रिकेट को अलविदा कह दिया। हाल ही में इंग्लैंड के मिडल ऑर्डर के बैट्समैन इयान बेल और पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने भी 2020 में इंटरनेशनल क्रिकेट से संन्यास ले लिया।

क्रिकेट में खली फैंस की कमी

2020 में क्रिकेट ने जो चीज सबसे ज्यादा मिस की, वह है फैन्स। मार्च में ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड के बीच पहला मैच बिना दर्शकों के खेला गया। इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल को दर्शकों की कमी इतनी खली कि उन्होंने अगले कुछ महीनों (मार्च से जून) के लिए क्रिकेट मैच नहीं कराने का ऐलान किया। कोरोना की वजह से BCCI ने IPL को भी आगे बढ़ा दिया।

जुलाई में एकबार फिर क्रिकेट की वापसी हुई और इंग्लैंड-वेस्टइंडीज के बीच सीरीज खेली गई। हालांकि, कोरोना ने ऑस्ट्रेलिया में सितंबर में होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप को जरूर छीन लिया। ICC ने इस टूर्नामेंट को स्थगित कर 2022 में कराने की घोषणा की। BCCI ने भारतीय दर्शकों को खुशी का मौका देते हुए सितंबर में यूएई में IPL कराने की घोषणा की। हालांकि, यह टूर्नामेंट भी बिना दर्शकों के खेला गया।

IPL 2020 मैच में खाली पड़ा दुबई स्टेडियम।

IPL पर कोरोना का साया

IPL शुरू होने से पहले कुछ खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव जरूर आए, लेकिन बाद में यह पहला ऐसा सफल आयोजन साबित हुआ, जिसमें देश-विदेश के कई खिलाड़ियों ने हिस्सा लिया। मुंबई इंडियंस ने फाइनल में दिल्ली कैपिटल्स को हराकर 5वीं बार IPL ट्रॉफी अपने नाम की। इस दौरान वुमन्स टी-20 चैलेंज का भी आयोजन हुआ।

एक चीज जो 2020 में पहली बार हुई, वह है धोनी की टीम चेन्नई सुपरकिंग्स का 13 सीजन में पहली बार लीग राउंड से ही बाहर होना और प्लेऑफ में नहीं पहुंचना। बायो-बबल की वजह से भी टीमों और खिलाड़ियों को दिक्कत हुई, लेकिन कुल मिलाकर टूर्नामेंट सफल रहा।

मुंबई इंडियंस ने रिकॉर्ड 5वीं बार IPL खिताब अपने नाम किया

टीम कितनी खिताब जीते साल
मुंबई इंडियंस 5 2013, 2015, 2017, 2019, 2020
चेन्नई सुपरकिंग्स 3 2010, 2011, 2018
कोलकाता नाइटराइडर्स 2 2012, 2014
सनराइजर्स हैदराबाद 2 2009, 2016
राजस्थान रॉयल्स 1 2008

WTC के नियम बदलने पड़े

कोरोना की वजह से 2019 में शुरू हुए वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप (WTC) के पहले संस्करण का शेड्यूल बिगड़ गया। मार्च से जून तक किसी भी प्रकार का क्रिकेट नहीं खेले जाने की वजह से ICC ने कई टूर्नामेंट्स शिफ्ट कर दिए। WTC में टेस्ट खेलने वाले 9 देशों को 2019 से मार्च, 2021 तक 6-6 सीरीज खेलनी थी, लेकिन कई सीरीज रद्द करनी पड़ी। इसके बाद ICC ने WTC के फाइनलिस्ट तय करने के लिए पॉइंट्स परसेंटेज का नया नियम लागू किया।

पॉइंट्स पर्सेंटेज के आधार पर कौन सी टीम अभी किस नंबर पर है?

पॉइंट्स पर्सेंटेज की बात करें, तो ऑस्ट्रेलिया 83.5% के साथ पहले, भारत 70.5% के साथ दूसरे और न्यूजीलैंड 62.5% के साथ तीसरे स्थान पर आ गई है।

रैंक टीम सीरीज खेले पॉइंट्स पर्सेंटेज
1 ऑस्ट्रेलिया 4* 326 83.5
2 भारत 5* 360 70.5
3 न्यूजीलैंड 4 300 62.5
4 इंग्लैंड 4 292 60.8
5 पाकिस्तान 3.5 166 39.5
6 श्रीलंका 2 80 33.3
7 वेस्टइंडीज 3 40 11.1
8 साउथ अफ्रीका 2 24 10.0
9 बांग्लादेश 1.5 0 0.00
नोट: * मौजूद सीरीज को बता रही है

कोरोना ने रद्द की इंग्लैंड-साउथ अफ्रीका सीरीज

इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच टी-20 सीरीज के बाद वनडे सीरीज होनी थी। पहले वनडे मैच से कुछ घंटे पहले ही साउथ अफ्रीका का एक खिलाड़ी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। वहीं, 2 होटल स्टाफ भी कोरोना की चपेट में आ गए। इसके बाद इंग्लैंड का साउथ अफ्रीका दौरा रद्द कर दिया गया। वहीं, न्यूजीलैंड दौरे पर पहुंची पाकिस्तान टीम के 10 खिलाड़ी क्राइस्टचर्च में हुई चेकिंग में कोरोना संक्रमित पाए गए।

इस साल टीम इंडिया ने अपना सबसे छोटा स्कोर बनाया

2020 जाते-जाते टीम इंडिया ने भी एक अनचाहा रिकॉर्ड अपने नाम किया। टीम इंडिया ने विदेश में अपने पहले और कुल दूसरे पिंक बॉल टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा। एडिलेड में खेले गए इस मैच में टीम इंडिया दूसरी पारी में 36 रन पर सिमट गई। यह भारत के टेस्ट इतिहास का एक पारी में सबसे कम स्कोर रहा।

ऑस्ट्रेलिया vs भारत एडिलेड टेस्ट में भारतीय बल्लेबाजों ने मैदान पर कितना समय बिताया

बैट्समैन पहली पारी दूसरी पारी
पृथ्वी शॉ 4 मिनट 15 मिनट
मयंक अग्रवाल 40 मिनट 57 मिनट
चेतेश्वर पुजारा 218 मिनट 17 मिनट
विराट कोहली 245 मिनट 18 मिनट
अजिंक्य रहाणे 130 मिनट 4 मिनट
हनुमा विहारी 31 मिनट 44 मिनट
ऋद्धिमान साहा 49 मिनट 27 मिनट

भारतीय टीम और खिलाड़ियों द्वारा 2020 में बनाए गए रिकॉर्ड :

  • भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच तीसरे और अंतिम वनडे के दौरान विराट कोहली ने इंटरनेशनल क्रिकेट में एक कप्तान के रूप में सभी फॉर्मेट मिलाकर 11,208 रन पूरे किए। यह किसी भी भारतीय कप्तान और बल्लेबाज द्वारा बनाए गए सबसे ज्यादा रन हैं। इससे पहले ये रिकॉर्ड धोनी (11,207 रन) के नाम था।
  • कोहली ने सबसे तेज 12 हजार रन बनाने का रिकॉर्ड भी बनाया। इस मामले में वे सचिन तेंदुलकर से आगे निकल गए। सचिन ने 309 मैच खेले थे। वहीं, कोहली ने 251 वनडे में यह रिकॉर्ड बनाया।
  • कोहली 100 या इससे अधिक इंटरनेशनल फिफ्टी लगाने वाले 5वें खिलाड़ी बने। उन्होंने सबसे तेज 236वीं पारी में यह मुकाम हासिल किया। इस लिस्ट में सचिन तेंदुलकर (145), कुमार संगकारा (118), रिकी पोंटिंग (112) और जैक कैलिस (103) का नाम भी शुमार है।
  • वनडे में रन चेज करते हुए कोहली ने 7000 रन भी पूरे किए। उन्होंने सबसे तेज 133 पारी में ये मुकाम हासिल किया। हालांकि, रन के मामले में इस लिस्ट में सचिन का नाम आता है। सचिन ने रन चेज करते हुए 232 पारी में 8720 रन बनाए। कोहली के फिलहाल 7018 रन हैं।
  • वनडे कप्तान के रूप में कोहली ने भारत में 4865 रन बनाए हैं। वह ऐसा करने वाले चौथे बल्लेबाज बने। उन्होंने श्रीलंका के कुमार संगाकारा (4724 रन) को पीछे छोड़ दिया। इस लिस्ट में सचिन, रिकी पोंटिंग और जैक कैलिस ही सिर्फ उनसे आगे हैं।
  • कुलदीप यादव वनडे क्रिकेट में सबसे तेज 100 विकेट लेने वाले भारतीय स्पिनर बने।
  • रोहित शर्मा सबसे तेज 9000 वनडे रन बनाने वाले तीसरे खिलाड़ी बने।

from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3rpw4PF
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.