पहले फोन करके बच्चे से पिता के मोबाइल में ऐप इंस्टॉल कराया, फिर खाते से 9 लाख रु. उड़ाए

आज के साइबर युग में ऑनलाइन धोखाधड़ी के नए-नए मामले सामने आ रहे हैं। हाल ही में महाराष्ट्र के नागपुर के पास करोडी कस्बे में ऑनलाइन धोखाधड़ी का चौंकाने वाले मामला सामने आया है। पुलिस के मुताबिक, यहां ठगों ने पहले बच्चे को फोन करके उसके पिता के मोबाइल में एक ऐप इंस्टॉल कराया। इसके बाद पिता के बैंक अकाउंट से करीब 9 लाख रुपए उड़ा लिए। पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

पिता के मोबाइल को इस्तेमाल करता था बच्चा

जानकारी के मुताबिक, करोडी निवासी अशोक मानवते का 15 साल का बेटा उसके मोबाइल को इस्तेमाल करता था। बीते बुधवार को एक अनजान नंबर से उसके मोबाइल पर कॉल आया। इस कॉल को अशोक के बेटे ने रिसीव किया। कॉल करने वाले ने अपने आपको एक डिजिटल पेमेंट कंपनी का कस्टमर केयर एक्जीक्यूटिव बताया। अशोक के मुताबिक, उनका यह मोबाइल नंबर बैंक अकाउंट से लिंक था।

क्रेडिट लिमिट बढ़ाने के बहाने इंस्टॉल कराया ऐप

अशोक ने बताया कि कॉल करने वाले ने बच्चे को उनके डिजिटल पेमेंट अकाउंट की लिमिट बढ़ाने की बात कही। इसके बाद बच्चे से मोबाइल में रिमोट डेस्कटॉप सॉफ्टवेयर इंस्टॉल कराया। जैस ही बच्चे ने ऐप इंस्टॉल किया, कॉल करने वाले को मोबाइल की रिमोट एक्सेस मिल गई। इसके बाद कॉल करने वाले ने अशोक के बैंक खाते से 8.95 लाख रुपए उड़ा लिए। पुलिस ने आईपीसी के सेक्शन 419, 420 और इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

धोखाधड़ी से ऐसे करें बचाव

  • किसी भी संदेह वाले मेल, कॉल या मैसेज पर ध्यान ना दें।
  • किसी के साथ एटीएम पिन, नंबर और CVV नंबर साझा ना करें।
  • किसी भी ट्रांजेक्शन की OTP किसी के साथ साझा ना करें।
  • किसी अंजान आदमी को डेट ऑफ बर्थ न बताएं।
  • बैंक खातों से लिंक मोबाइल को बच्चों की पहुंच से दूर रखें।
  • अपने मोबाइल में नए ऐप इंस्टॉल पर सुरक्षा फीचर लगाएं।
  • कस्टमर केयर वालों को पर्सनल जानकारी, लास्ट ट्रांजेक्शन की डिटेल आदि की सूचना साझा ना करें।
  • किसी भी प्रकार ले लालच या झांसे वाले संदेशों या कॉल्स पर एक्शन लेने से पहले खुद जानकारी लें।


Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
पुलिस ने शिकायत पर रिपोर्ट दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/32I6kDJ
via IFTTT

No comments:

Powered by Blogger.