Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

भारतीय अर्थव्यवस्था में रिकवरी के बावजूद अक्टूबर में 5.5 लाख नौकरियां खत्म हुईं

भारत के लिए रोजगार के मोर्चे पर बुरी खबर है। आर्थिक सुधार के बावजूद अक्टूबर में मई के बाद पहली बार रोजगार में गिरावट देखी गई है। अक्टूबर में लगभग 5.5 लाख नौकरियों का नुकसान हुआ है। इसकी जानकारी सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी (CMIE) के आंकड़ों से मिली है।

1 नवंबर को समाप्त हुए श्रम बाजार में साप्ताहिक विश्लेषण में सीएमआईई ने कहा कि अक्टूबर 2020 मई महीने में रोजगार में रिकवरी शुरू होने के बाद अक्टूबर पहला महीना है जब रोजगार में गिरावट दर्ज हुई है।

CMIE की रिपोर्ट के मुताबिक, इस साल अगस्त और सितंबर में बेरोजगारी दर घटकर 6.7 फीसदी तक पहुंच गया था। अक्टूबर में इसमें सुधार की उम्मीद की जा रही थी लेकिन इस माह बेरोजगारी दर करीब 7 फीसदी तक पहुंच गया।

पास हुआ बिल:प्राइवेट सेक्टर में स्थानीय युवाओं को 75% आरक्षण, ऐसा करने वाला देश का पहला राज्य बना हरियाणा

रिपोर्ट के अनुसार, अक्टूबर का महीना भले ही त्योहारी माह था और कुछ राज्यों में चुनावों के साथ-साथ खरीफ फसल का महीना भी था। बावजूद रोजगार में गिरावट रही। रिपोर्ट के अनुसार, अक्टूबर में देश में रोजगार की दर घटकर 37.8 फीसदी रह गई, जबकि सितंबर में यह 38 फीसदी था। संस्थान का कहना है कि लेबर फोर्स पार्टिसिपेशन रेट (पीएलआर) में ठहराव और बेरोजगारी दर के बढ़ने से यह स्थिति पैदा हुई।

अप्रैल में रोजगार की दर में 12.2 प्रतिशत की भारी वृद्धि हुई थी। मई, जून और जुलाई के दौरान 10.4 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए। लेकिन, उसके बाद, वसूली शून्य रही है। सीएमआईई के मुताबिक मई में कोरोनावायरस प्रेरित लॉकडाउन के बाद रोजगार 3.16 करोड़ बढ़ा था, जबकि जून में 6.32 करोड़, जुलाई में 1.53 करोड़ थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
5.5 lakh jobs lost in October despite recovery in Indian economy


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3l5nDp9
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments