Header Ads Widget

Ticker

6/recent/ticker-posts

भारत के ट्रैवल सेक्टर में रिकवरी की उम्मीद; अगले दो महीनों के अंदर 50% से ज्यादा लोगों ने बनाया घूमने का प्लान

कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुए ट्रैवल सेक्टर से जुड़ी एक अच्छी खबर आई है। फिक्की और थ्रिलोफिलिया के ताजा सर्वे के मुताबिक, कुल यात्रा करने वाले लोगों में से 50% लोग अगले 2 महीनों में यात्रा करने की योजना बना रहे हैं। जबकि 33% लोग दो बार यात्रा करने की योजना बनाई है, जिन्होंने 2019 में भी ऐसा ही किया था।

फ्लाइट या खुद की गाड़ी है पहली पसंद

थ्रिलोफिलिया के को-फाउंडर अभिषेक धागा ने बताया कि यह सर्वे कोविड-19 के बाद भारतीय ट्रेवलर्स द्वारा सुरक्षा, रहने की जगह और यात्रा करने के लिए ट्रांसपोर्ट के चुनाव जैसे पहलुओं को जानने के लिए किया गया। सर्वे में शामिल ज्यादातर लोग भारत के प्रमुख मेट्रोपोलिटन शहरों से आते हैं। उन्होंने बताया कि सर्वे में शामिल 65% लोगों ने बाहर ट्रैवल करने के लिए फ्लाइट या खुद की गाड़ी को ज्यादा तवज्जो दिया। लगभग 90% लोग पहाड़ों, तटों (बीचेस), छोटे गांवों या शहरों जैसे स्थानों पर जाना ज्यादा पसंद किया।

सेक्टर में बदलाव का दौर

सर्वे से एक बात तो साफ है कि जब लोग घर से बाहर ट्रैवल करने निकलेंगे तो इस सेक्टर में रिकवरी रेट भी बढ़ेगी। यह इकोनॉमी के लिए भी राहत की बात होगी। इसके अलावा आने वाले दिनों में इस सेक्टर में काफी कुछ बदलाव भी नजर आ सकते हैं। फिक्की के सेक्रेटरी जनरल दिलिप चिनॉय कहते हैं कि ट्रैवल, टूरिज्म और हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में कोरोना महामारी के चलते सर्विस में काफी बदलाव किए जा रहे हैं। इसमें ग्राहकों के व्यवहार और ट्रैवलिंग के तौर तरीकों में भी बड़े बदलाव को देखा जा सकता है। जिसके चलते भविष्य में इन क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग, सेफ्टी, हेल्थ और हाइजीन के नए नियमों को भी लाया जाएगा।

भारत की जीडीपी में ट्रैवल और टूरिज्म सेक्टर की हिस्सेदारी

इंडिया ब्रांड इक्विटी फाउंडेशन (IBEF) के डेटा के मुताबिक भारत की जीडीपी में ट्रैवल और टूरिज्म सेक्टर की हिस्सेदारी 2028 में बढ़कर 32.05 लाख करोड़ रुपए तक होने का अनुमान है, जो 2017 में 15.24 लाख करोड़ रुपए रहा था। हालांकि, भारत में इस सेक्टर से 2020 में आने वाली आय 50 बिलियन डॉलर अनुमानित है। भारत में इस सेक्टर से वित्त वर्ष 20 के दौरान 3.9 करोड़ नौकरियां निकलीं। यह भारत के कुल रोजगार में 8% की हिस्सेदारी रही थी। रिपोर्ट के मुताबिक 2028 तक भारत में इंटरनेशनल यात्रियों की संख्या 30.5 अरब तक पहुंचने का अनुमान है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Indian Tourism And Hospitality Industry Recovery Update; Here's FICCI Thrillophilia Latest Survey


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/38h2MMf
via IFTTT

Post a Comment

0 Comments