Ticker

6/recent/ticker-posts

एक्ट्रेस के वकील ने उन्हें बंगाल की शेरनी बताया, बोले- वो वापसी जरूर करेगी और सभी बेवकूफों का मुकाबला करेगी

ड्रग्स मामले में करीब महीनेभर तक मुंबई की भायखला जेल में रहने के बाद आखिरकार रिया चक्रवर्ती को बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट से जमानत मिल गई और वे जेल से बाहर भी आ गईं। जिसके बाद उनके वकील सतीश मानशिंदे ने उन्हें बंगाल की शेरनी बताते हुए कहा कि वो जरूर वापसी करेंगी और सभी बेवकूफों का मुकाबला करेंगी।

एनडीटीवी से बातचीत के दौरान मानशिंदे ने मीडिया के एक हिस्से का जिक्र करते हुए कहा, 'वो उन सभी बेवकूफों से लड़ेगी। सभी बेशर्म लोग जिन्होंने उसकी छवि को बर्बाद किया, वो मेरा इंटरव्यू करने के लिए मेरे ऑफिस के बाहर लाइन लगा रहे हैं।'

हाईकोर्ट के प्रति आभार जताया

रिया को जमानत मिलने के बारे में बताते हुए आगे उन्होंने कहा, 'जज ने पाया कि ड्रग्स की मात्रा बहुत कम है, और ये उस मात्रा के बराबर भी नहीं है कि जिसका व्यापार किया जा सके। मैं इस बात के लिए हाईकोर्ट का आभारी हूं कि जज ने उस पूरी सामग्री को देखा, जो उन्हें दिया गया था।'

चैनल मेरी फीस और कार पर चर्चा कर रहे

रिया चक्रवर्ती की बदनामी को लेकर मानशिंदे ने कहा, 'बॉम्बे हाईकोर्ट ने मीडिया ट्रायल की भूमिका की जांच भी की। सुप्रीम कोर्ट भी इस मामले में मीडिया ट्रायल की भूमिका की जांच कर रहा है। एक चैनल मेरी फीस, मेरी कारों और मेरे ऑफिस के बारे में चर्चा कर रहा था। सोशल मीडिया पर मैंने हमला भी झेला। मेरी फीस से किसी को क्या मतलब होना चाहिए?'

सुशांत का परिवार रिया से प्रतिशोध चाह रहा

मानशिंदे ने कहा, 'सुशांत सिंह राजपूत के परिवार में रिया के प्रति जबरदस्त बदले की भावना नजर आ रही है। लोग रिया को इसलिए निशाना बना रहे हैं, क्योंकि वो सुशांत सिंह राजपूत की गर्लफ्रेंड थी, उनकी लिव-इन पार्टनर थी। वो लगभग घर की संचालक थीं।'

सुशांत के पिता ने दर्ज कराया है धोखाधड़ी का केस

सुशांत के पिता केके सिंह ने रिया चक्रवर्ती के खिलाफ 15 करोड़ रुपए की धोखाधड़ी का केस पटना के राजीव नगर थाने में दर्ज करवाया था। इसे आधार मानते हुए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज किया था। इस मामले में एक्ट्रेस से तीन बार पूछताछ की जा चुकी है। हालांकि, ईडी ने अपनी फाइनल रिपोर्ट अभी तक सार्वजनिक नहीं की है। इसी केस की जांच के दौरान सुशांत के बैंक खाते का फॉरेंसिक ऑडिट भी किया गया।

फॉरेंसिक ऑडिट में भी कुछ संदिग्ध नहीं निकला

सुशांत के बैंक खाते की फॉरेंसिक ऑडिट रिपोर्ट में भी कुछ संदिग्ध ट्रांजेक्शन होना नहीं पाया गया। हाल ही में सामने आई खबरों के मुताबिक सुशांत के सभी बैंक खातों में पिछले 5 साल के दौरान 70 करोड़ का लेन-देन हुआ, जिसमें से सिर्फ 55 लाख रुपए ही रिया चक्रवर्ती से जुड़े पाए गए हैं। ज्यादातर पैसा यात्रा, स्पा और गिफ्ट खरीदने पर खर्च किया गया था।

एनसीबी कर रही केस से जुड़े ड्रग्स एंगल की जांच

ईडी की जांच के दौरान रिया चक्रवर्ती की कुछ ऐसी वॉट्सएप चैट्स का पता चला था, जिनमें ड्रग्स के लेनदेन की बात हो रही थी। जिसके बाद इस केस में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो भी शामिल हो गई। इसके अलावा सीबीआई की टीम हत्या के एंगल से सुशांत मामले की जांच कर रही है। हालांकि एम्स पैनल द्वारा सुशांत की मौत को सुसाइड बताए जाने के बाद सीबीआई भी इसी बात पर मुहर लगाने की तैयारी कर चुकी है।

अब इन एंगल्स से मामले की जांच करेगी सीबीआई

आत्महत्या का मामला स्पष्ट होने के बाद सीबीआई अब इसके कारणों की पड़ताल करेगी। इसमें रिया चक्रवर्ती और उनके भाई की भूमिका, बॉलीवुड में प्रोफेशनल राइवलरी और भाई-भतीजावाद, नशीली दवाओं के दुरुपयोग और राजपूत के मानसिक स्वास्थ्य का एंगल शामिल है।

महीनेभर जेल में रहने के बाद रिया को मिली जमानत

ड्रग्स मामले में 9 सितंबर से जेल में बंद रिया चक्रवर्ती को बुधवार को बॉम्बे हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। हाईकोर्ट ने कहा कि रिया ड्रग डीलर्स का हिस्सा नहीं हैं। उन्होंने अपने या किसी और के फायदे के लिए किसी भी तरह से ड्रग्स को आगे नहीं बढ़ाया है। फिलहाल ऐसा कोई प्रमाण नहीं है, जिसके आधार पर यह माना जाए कि जमानत मिलने के बाद वह कोई अपराध कर सकती हैं। इससे पहले, सेशन कोर्ट ने मंगलवार को रिया की ज्यूडिशियल कस्टडी 14 दिन और यानी 20 अक्टूबर तक बढ़ा दी थी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Rhea Chakraborty Lawyer says on Her bail, Bengal Tigress Will Fight Back : Adds Sushant Singh Rajput’s Family Looks Vindictive


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/34Eu0ZP
via IFTTT

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां