डेनमार्क बेस्ड सिंगर का खुलासा- गरीबों की मदद के लिए एआई पर बेस्ड ऐप बना रहे थे सुशांत, सालभर पहले साझा किया था कॉन्सेप्ट

सुशांत सिंह राजपूत अपनी मौत से करीब एक साल पहले देश के गरीबों की मदद के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंट (एआई) बेस्ड एक ऐप डेवलप कर रहे थे। इस बात का खुलासा डेनमार्क बेस्ड सिंगर और एंटरप्रन्योर एरियन रोमल ने एक न्यूज एजेंसी से बातचीत में किया।

'उनकी बनाई कोई चीज जरूर होनी चाहिए'

रोमल ने आईएएनएस से बातचीत में कहा- आखिरी बार सुशांत से मेरी बात करीब एक साल पहले मार्च-अप्रैल में मुंबई में एक पार्टी के दौरान हुई थी। हमने टेक्नोलॉजी को लेकर चर्चा की थी। 2020 तक ऐसा कुछ जरूर होना चाहिए, जो उन्होंने बनाया होगा। वह कहां है?

उन्होंने एआई का इस्तेमाल कर कुछ ऐसा बनाया था, जो भारत के गरीबों की मदद कर सके। उन्होंने इसके बारे में बात की थी, लेकिन ज्यादा कुछ नहीं बताया था। क्योंकि यह एक आइडिया था, जो चोरी हो सकता था। लेकिन उन्होंने मुझे कॉन्सेप्ट के बारे में बताया था। उनका लक्ष्य ऐप के जरिए गरीबों की मदद करना था।

अपना प्रभाव छोड़ने वाले लोगों में से थे सुशांत

रोमल ने आगे बताया- कई लोग ऐसे होते हैं, जो आप पर प्रभाव छोड़ जाते हैं। सुशांत उन्हीं में से एक थे। मैं ऐप बनाता हूं। इसलिए मुझे यह चर्चा बहुत रोचक लगी। एआई और हमारी जरूरत की टेक्नोलॉजी के बारे में एक एक्टर की इतनी दिलचस्पी और नॉलेज हैरान करता है। क्योंकि वे इस दुनिया में नहीं रहते। वे अलग तरह के इंसान थे। वे जानते थे कि सही शब्द और सही सवाल क्या हैं?

जब सुशांत ने शराब पीने से मना कर दिया था

रोमल ने बताया- मैं विदेश में रहता हूं। लेकिन चार साल पहले सुशांत से मुंबई में तब मेरी मुलाकात हुई थी, जब मैं किसी काम से वहां गया था। सुशांत मलाड में रहते थे। मुझे याद है कि मैं पहली बार उनसे एक टीवी एक्टर की पार्टी में मिला था।

मैं अपनी ड्रिंक के साथ उनकी बगल में बैठा हुआ था। लेकिन नहीं जानता था कि वे कौन हैं? मैंने ऐसे ही पूछ लिया कि आपकी ड्रिंक कहां हैं? उन्होंने कहा, 'नहीं भाई मैंने सिर्फ अपना डाइट मील लिया है।' वे अपना टिफिन बॉक्स लाए थे, जिसमें बॉयल चिकन था। उन्होंने सिर्फ अपना डाइट फूड खाया, जबकि बाकी सभी शराब पी रहे थे और मस्ती कर रहे थे।

मैंने उनसे कहा कि उन्हें एक ड्रिंक तो लेना ही चाहिए। लेकिन उन्होंने यह कहकर इनकार कर दिया कि इससे उनके रोल की तैयारी प्रभावित होगी। काम के प्रति उनकी गंभीरता और अनुशासन से मैं काफी प्रभावित हुआ था।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
एरियन रोमल ने पूछा- 2020 तक ऐसा कुछ जरूर होना चाहिए, जो सुशांत सिंह राजपूत ने बनाया होगा। वह कहां है?


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3bPYgUs
via IFTTT
Previous
Next Post »