जया बच्चन पर कंगना के लगातार हमलों के बाद उनके बचाव में उतरीं स्वरा भास्कर, कहा- गाली देनी है तो मुझे दो.. मैं तुम्हारे साथ यह कीचड़ कुश्ती लड़ूंगी







कंगना रनोट को एक्ट्रेस और सांसद जया बच्चन पर लगातार हमलावर होते देखकर अब उनके बचाव के लिए स्वरा भास्कर कूद पड़ी हैं। कंगना ने जया के राज्यसभा में दिए बयान पर सवाल उठाते हुए बुधवार को एक ट्वीट किया था। जिसे बेहद शर्मनाक बताते हुए स्वरा ने कहा कि तुम्हें लड़ना है तो मुझसे लड़ो, यह कीचड़ कुश्ती मैं तुम्हारे साथ लड़ूंगी।

स्वरा ने कंगना के ट्वीट का जवाब देते हुए लिखा, 'बीमार कंगना, शर्मनाक टिप्पणी! बस करो प्लीज। अपने जहन की गंदगी खुद तक सीमित रखो, गाली देनी है तो मुझे दो.. मैं तुम्हारी बकवासें खुशी खुशी सुनूंगी और यह कीचड़ कुश्ती लड़ूंगी तुम्हारे साथ। बड़ों की इज्जत भारतीय संस्कृति का पहला सबक है- और तुम तो कथित राष्ट्रवादी हो।'

कंगना ने कहा था- यह मेरी थाली है आपकी नहीं

जया बच्चन के थाली में छेद वाले बयान का जवाब देते हुए कंगना ने बुधवार को किए अपने ट्वीट में उनसे पूछा था, 'कौन सी थाली दी है जया जी और उनकी इंडस्ट्री ने? एक थाली मिली थी जिसमें दो मिनट के रोल आइटम नम्बर्ज और एक रोमांटिक सीन मिलता था वो भी हीरो के साथ सोने के बाद, मैंने इस इंडस्ट्री को फेमिनिज्म सिखाया, थाली देश भक्ति नारीप्रधान फिल्मों से सजाई, यह मेरी अपनी थाली है जया जी आपकी नहीं।'

जया ने कहा था- जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद करते हैं

इससे पहले मंगलवार को जया बच्चन ने ड्रग्स से जुड़े आरोपों को लेकर बॉलीवुड का बचाव करते हुए राज्यसभा में कहा था, 'सिर्फ चुनिंदा लोगों की वजह से आप इस इंडस्ट्री की छवि को धूमिल नहीं कर सकते। मुझे बहुत शर्मिंदगी हुई जब लोकसभा में हमारे एक सदस्य ने जो कि खुद भी फिल्म इंडस्ट्री से है, उन्होंने इंडस्ट्री के खिलाफ बातें की। ये शर्मनाक है। जिस थाली में खाते हैं उसमें छेद करते हैं। गलत बात है।'

इसके साथ ही बिना नाम लिए कंगना पर निशाना साधकर कहा था कि 'जिन लोगों ने फिल्म इंडस्ट्री से दौलत और शोहरत कमाई, वे ही इसे गटर बता रहे हैं। मैं इससे बिल्कुल सहमत नहीं हूं। मुझे उम्मीद है कि सरकार ऐसे लोगों से कहे कि वे इस तरह की भाषा का इस्तेमाल नहीं करें।'

##

कंगना ने पूछा था- आपकी बेटी या बेटा होते तो भी यही कहतीं

जया के बयान से नाराज कंगना ने मंगलवार को उनसे पूछा था, 'जया जी क्या आप यही बात कहतीं अगर मेरी जगह पर आपकी बेटी श्वेता को टीनेज में पीटा गया होता, ड्रग्स दी गई होती और उसका शोषण हुआ होता। क्या तब भी आप यही चीज कहतीं अगर अभिषेक लगातार बुलिंग और उत्पीड़न की शिकायत करते रहते, और एक दिन वे फांसी पर झूलते हुए मिलते? थोड़ी हमदर्दी हमारे साथ भी दिखाइये।'

##


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2GX3Hph
via IFTTT
Previous
Next Post »