‘मुंबई में का बा’ गाने में दिखेगा प्रवासी मजदूरों का दर्द, अगले 2 सालों में 50 भोजपुरी गाने बनाएंगे अनुभव सिन्‍हा और टी-सीरिज

हाल ही में अनुभव सिन्‍हा और मनोज बाजपेयी ने भोजपुरी रैप ‘मुंबई में का बा’ का टीजर लॉन्च किया था। जिसका पूरा गाना बुधवार को जारी होगा। इसे जेएनयू के स्‍टूडेंट रहे डॉक्‍टर सागर ने लिखा है और मनोज बाजपेयी ने आवाज दी है। गाने की मेकिंग को लेकर इसके लेखक ने दैनिक भास्‍कर से खास बातचीत करते हुए कई जानकारियां साझा कीं।

सागर ने बताया, 'अनुभव सर एक भोजपुरी के राइटर की तलाश में थे। उन्‍हें साहित्‍य जगत के जानकार लेखक विमल चंद्र पांडे ने मेरा नाम सजेस्‍ट किया। उनका यही मानना था कि पंजाब छोटा सा स्‍टेट है और पंजाबी बोलने वाले उतने नहीं हैं, जितने भोजपुरी बोलने वाले हैं। फिर भी वहां के रैपर पूरी दुनिया में भरे पडे हैं। दूसरा वो भोजपुरी गानों की अश्‍लीलता और फूहड़पन से भी बहुत दुखी थे। लिहाजा भोजपुरी की छवि को बेहतर करने के लिए वो रैप और बाकी विधा के गानों को लाने में लगे हैं।'

गाने में दिखेगी यूपी-बिहार के माइग्रेंट्स की पीड़ा

'रैप को बागी तेवर माना जाता है। लॉकडाउन में माइग्रेंट्स को जो कुछ झेलना पड़ा, उस पर वो बगावती सुर में कुछ कहना चाहते थे। वो मैंने लिखा है। उन्‍होंने ट्रैक भी मुझे सुझाया। वो अंग्रेजी वाला ट्रैक था। उस पर वो गाने की वर्डिंग्‍स चाहते थे। अनुभव सर इस गाने में यूपी, बिहार की पीड़ा और दुख को पिरोना चाहते थे। यूपी और बिहार में अगर काम होता तो माइग्रेंट्स क्‍यों मुंबई में मरने के लिए आते।'

मनोज बाजपेयी से पहले दो सिंगर्स की आवाजें भी टेस्ट हुईं

'इसे मनोज बाजपेयी जी ने गाया है, लेकिन उनसे पहले दो और सिंगर्स की आवाजें अटेंम्‍प्‍ट हुईं थीं। पर बाद में अनुभव सर ने कहा कि मनोज की आवाज भी ट्राई करते हैं। यह सब 3 जुलाई की बात है, उस दिन मेरा बर्थडे था। उन्‍होंने कहा भी कि डॉ सागर आप पहले लिरिसिस्‍ट हैं, जिन्‍हें पहली बार में पास किया।'

पहले दिन अपनी आवाज से संतुष्ट नहीं थे बाजपेयी

पहले दिन मनोज बाजपेयी अपने गाने से संतुष्ट नहीं थे। एक और दिन के लिए स्टूडियो बुक किया गया। फिर म्यूजिक डायरेक्‍टर अनुराग सैकिया ने म्यूजिक तैयार किया। मीटर और बहर की आजादी से गाना तैयार हुआ। अनुराग सैकिया को अनुभव सिन्‍हा ने अंग्रेजी वाला ट्रैक नहीं दिया था।'

अंग्रेजी में भी हैं गाने के सब टाइटल

'गानों की सब टाइटलिंग अंग्रेजी में भी हुई है। अनुभवी पत्रकार डॉक्‍टर संकर्षण ठाकुर ने इसे अंग्रेजी में सब टाइटल किया है। वो टेलीग्राफ में हैं। भोजपुरी में भी अच्छी पकड़ है उनकी। कमालिस्तान स्टूडियो में इस गाने की शूटिंग हुई। बनती हुई बिल्डिंगें और पास काम करते हुए मजदूरों के बैकड्रॉप में संभवत: गाने की शूटिंग हुई है।'

ये गाना टी-सीरीज द्वारा लॉन्च किया जा रहा है और कंपनी से जुड़े सूत्रों का कहना है कि कंपनी ने अगले दो सालों में 50 भोजपुरी गाने कंपोज करने की तैयारी की है। 'मुंबई में का बा’ समेत आने वाले सभी भोजपुरी गानों को कंपनी आम जनता के हाथों रिलीज करवाने वाली है। आम जनता से तात्‍पर्य साहित्‍य और संगीत जगत के जानकार लोगों से है।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
अनुभर सिन्हा और मनोज बाजपेयी के साथ डॉक्टर सागर (बीच में)


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2GI8tal
via IFTTT
Previous
Next Post »