कप्तान जीसस ने रिकॉर्ड छठा खिताब कार हादसे में जान गंवाने वाले क्लब के पूर्व खिलाड़ी रेयेस को समर्पित किया, कहा- उनके बिना जश्न अधूरा

सेविला के कप्तान जीसस नवास ने अपने क्लब के लगातार छठे यूरोपा लीग खिताब को पूर्व खिलाड़ियों जोस एंटोनियो रेयेस और एंटोनियो प्यूर्टा को समर्पित किया। नवास ने कहा कि सेविला के कप्तान होने के नाते यह कप जीतना मेरे लिए बहुत मायने रखता है। यह खिताब उन सभी लोगों, दोस्तों और फैन्स को समर्पित, जो अब यहां नहीं हैं।

रेयेस की पिछले साल जून में एक कार हादसे में मौत हो गई थी, जबकि प्यूर्टा की 2007 में ला लिगा के एक मैच में खेलते वक्त दिल का दौरा पड़ने से जान चली गई थी। रेयेस यूरोपा लीग का खिताब जीतने वाली सेविला की तीन टीमों के सदस्य भी रहे थे।

इस जीत से सभी फैंस खुश होंगे: नवास

कप्तान नवास ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि सेविला के फैंस इससे खुश होंगे। सिर्फ मैंने नहीं, बल्कि हमने यह ट्रॉफी उठाई है, क्योंकि हम सभी इस टीम के कप्तान हैं। उन्होंने कोच जुलेन लोपेतेगुई की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि लोपेतेगुई 24 घंटे टीम के साथ जुड़े रहे और वे खिताब के सच्चे हकदार हैं।

फाइनल में गोल करने वाले कार्लोस भी टीम की जीत से खुश

टीम के लिए फाइनल में गोल करने वाले ब्राजीलियन खिलाड़ी डिएगो कार्लोस भी इस जीत से खुश हैं। उन्होंने कहा कि यह टाइटल हम सबके लिए जरूरी था। क्लब ने मेरे लिए जो कुछ किया, उसके लिए मैं उनका शुक्रिया अदा करना चाहता हूं। मैंने फाइनल में गोल किया, ट्रॉफी जीती और मेरी पत्नी भी प्रेग्नेंट है। इसलिए मैं बहुत खुश हूं।

सेविला ने इंटर मिलान को 3-2 से हराकर यूरोपा लीग जीता

स्पेनिश फुटबॉल क्लब सेविला ने शुक्रवार रात यूरोपा लीग के फाइनल में इटली के क्लब इंटर मिलान को 3-2 से हराकर लगातार छठी बार खिताब जीता। यह मैच कोरोना के कारण जर्मनी के कोलोन शहर के खाली स्टेडियम में खेला गया। सेविला ने अब तक सबसे ज्यादा 6 और मिलान ने 3 बार यूरोपा लीग जीता है।

पिछले 9 में से 6 खिताब स्पेनिश क्लब ने ही जीते हैं। इसमें सेविला सबसे ज्यादा 4 बार चैम्पियन रही है। इस स्पेनिश क्लब ने 2014, 2015 और 2016 में लगातार तीन खिताब जीते थे। वहीं, 9 में से 3 बार इंग्लैंड की टीमें चैम्पियन रही हैं।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
सेविला के कप्तान जीसस नवास (ट्रॉफी के साथ) ने कोच जुलेन लोपेतेगुई की भी तारीफ की। उन्होंने कहा कि लोपेतेगुई 24 घंटे टीम के साथ जुड़े रहे और वे खिताब के सच्चे हकदार हैं।


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3l6DSCJ
via IFTTT
Previous
Next Post »