भगवान राम की कुंडली: ग्रह योगों के प्रभाव से ही मर्यादा की पराकाष्ठा थे प्रभु श्रीराम

भगवान राम का जन्म कर्क लग्न और कर्क राशि में ही हुआ। इनके जन्म के समय लग्न में ही गुरु और चंद्र, तृतीय पराक्रम भाव में राहु, चतुर्थ माता के भाव में शनि, और सप्तम पत्नी भाव में मंगल बैठे हुए हैं।

from Latest And Breaking Hindi News Headlines, News In Hindi | अमर उजाला हिंदी न्यूज़ | - Amar Ujala https://ift.tt/30N0OxC
Previous
Next Post »