वकील का आरोप- मुंबई पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही थी, चार महीने पहले पुलिस को रिया के बारे में आगाह किया गया था

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में उनके परिवार के वकील विकास सिंह ने मुंबई पुलिस पर सवाल खड़े किए। उन्होंने बताया कि मुंबई पुलिस इस मामले में पूरी तरह से सहयोग नहीं कर रही थी। मुंबई में एफआईआर दर्ज नहीं की गई। इसलिए यह केस पटना में दर्ज कराया गया।

उन्होंने यह भी खुलासा किया कि सुशांत की मौत से 4 महीने पहले उनके पिता ने बांद्रा पुलिस के डीसीपी से रिया चक्रवर्ती को लेकर शिकायत की थी। इसमें उन्होंने रिया द्वारा सुशांत को परेशान करने की जानकारी दी थी। लेकिन पुलिस ने इस मामले में कोई कार्रवाई नहीं की।

इस क्राइम के लिए रिया ने लंबी प्लानिंग की थी
विकास ने यह भी आरोप लगाया कि रिया, सुशांत के माइंड पर कंट्रोल कर रही थी और वह उनके परिवार से अभिनेता की बात नहीं करवाती थी। उसने पूरे परिवार को सुशांत से अलग कर दिया था। इस घटना के पीछे रिया की लंबी प्लानिंग थी। वह सारी मेडिकल फाइल लेकर चली गई थी। जब सुशांत अकेलापन महसूस कर रहे थे, तब रिया ने उनका फोन ब्लॉक कर दिया था।

मुंबई पुलिस नहीं दर्ज कर रही थी एफआईआर
विकास ने साफ किया कि सुशांत के परिवार को एफआईआर दर्ज कराने में डेढ़ महीने इसलिए लगे, क्योंकि परिवार शोक में था और मुंबई पुलिस एफआईआर दर्ज नहीं कर रही थी। मुंबई पुलिस परिवार पर ये दबाव डाल रही थी कि आप बड़े-बड़े प्रोडक्शन हाउस का नाम दें। उन्होंने आरोप लगाया कि मुंबई पुलिस इस जांच को दूसरी दिशा में ले जा रही है।

परिवार चाहता था कि पटना पुलिस पूरे मामले की जांच करे
यह भी कहा कि पटना में जब हम एफआईआर दर्ज कराने गए तो पुलिस को एफआईआर दर्ज करने में परेशानी थी। हम चाहते हैं कि पटना पुलिस पूरे मामले की जांच करे। विकास सिंह ने इस मामले में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को धन्यवाद कहा। इशारों में उन्होंने यह कहा कि यह केस उनके निर्देश पर ही दर्ज हुआ है।

बिहार पुलिस ने नहीं दिया रिया को पूछताछ का नोटिस
मामले में पटना सिटी के एसपी विनय तिवारी ने कहा- एफआईआर दर्ज करके जांच शुरू कर दी है। अभी यह नहीं कहा जा सकता कि किनसे पूछताछ होगी। सुशांत के पिता ने जिनका भी नाम दिया, उनके खिलाफ केस दर्ज हुआ है। उन्होंने यह भी स्पष्ट किया कि अभी तक किसी को भी पूछताछ का नोटिस नहीं दिया गया है।

इन धाराओं में दर्ज हुआ केस
सुशांत के पिता की शिकायत पर पटना के राजीव नगर पुलिस ने धारा 341, 342, 280, 420, 406, 420 और 306 के तहत रिया और उसके परिजन समेत छह लोगों को आरोपी बनाया है। इसके साथ पटना से चार पुलिसवालों की टीम मुंबई पहुंच गई है। पटना के एसएसपी उपेंद्र शर्मा ने इसकी पुष्टि की है। परिजन के साथ ही एलजेपी नेता चिराग पासवान ने सीबीआई से कराने की मांग की।

मामले में सीबीआई जांच जरूरी: सुब्रमण्यम स्वामी
भाजपा के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा सांसद डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी ने सुशांत मामले में सीबीआई जांच की मांग की। उन्होंने ट्वीट करके कहा- अगर बिहार पुलिस सच में सुशांत सिंह राजपूत की अप्राकृतिक मौत की जांच करने के लिए गंभीर है तो इसके लिए सीबीआई जांच के अलावा कोई और ऑप्शन नहीं है। क्योंकि दो राज्य की पुलिस एक ही केस की जांच नहीं कर सकती हैं।

सुशांत के पिता के 7 सवाल

  • सुशांत को 2019 के पहले तक कोई भी दिमागी बीमारी नहीं थी। रिया के संपर्क में आने के बाद अचानक मानसिक रूप से बीमार कैसे हो गया?
  • यदि उसका इलाज चल रहा था तो हमसे लिखित या मौखिक मंजूरी क्यों नहीं ली गई, जो जरूरी है?
  • रिया के साथ सुशांत का इलाज करने वाले डॉक्टर ने क्या दवाएं दीं, वह भी इस साजिश में शामिल है?
  • मानसिक हालत नाजुक होने पर रिया ने उसका ठीक से इलाज क्यों नहीं कराया, वह सारे पर्चे साथ क्यों ले गई?
  • सुशांत के एक बैंक खाते में 17 करोड़ रुपए थे, जिनमें से सालभर में करीब 15 करोड़ निकाल लिए गए, ये पैसे किन खातों में गए?
  • सुशांत बॉलीवुड में नाम कमा चुके थे। ऐसा क्या हुआ कि रिया के आने के बाद उसे फिल्में ही मिलना बंद हो गईं?
  • दोस्त महेश के साथ सुशांत ऑर्गेनिक खेती के लिए केरल में जमीन देख रहा था, तब रिया ने उसे रोकने के लिए ब्लैकमेल किया?

रिया, भंसाली, आदित्य चोपड़ा समेत कई हस्तियों से पूछताछ
सुशांत मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती, संजना सांघी, मुकेश छाबड़ा, आदित्‍य चोपड़ा, कास्‍टिंग डायरेक्‍टर शानू शर्मा, संजय लीला भंसाली, शेखर कपूर, महेश भट्ट, रूमी जाफरी जैसे बड़े नामों से पूछताछ हो चुकी है। पटना के रहने वाले सुशांत मुंबई के बांद्रा स्थित फ्लैट में 14 जून को मृत मिले थे। उनकी पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में अभिनेता की माैत फांसी के कारण दम घुटने से हाेने की बात सामने आई थी।

news source


Previous
Next Post »