Ticker

6/recent/ticker-posts

अमेरिका में पहले हर 100 मरीजों में से 6 की मौत हो रही थी मगर अब यह आंकड़ा केवल एक पर सिमटा; वहीं भारत में कोई खास सुधार नहीं

एक तरफ देश में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ रहे हैं तो वहीं दूसरी तरफ कोरोना से होने वाली मौत का आंकड़ा भी तेजी से बदल रहा है। रविवार तक देश में कोरोना से हुई मौतें 20 हजार के करीब आ चुकी हैं। सोमवार को यह संख्या भी पार हो जाएगी।

भारत में कोरोना से शुरुआती 10 हजार मौतें 80 दिन में हुई थीं, जबकि अगली 10 हजार मौतों में सिर्फ 21 दिन लगे। देश में 30 मई तक कोरोना मरीजों की मृत्युदर 2.8% थी। 25 जून को यह 3.9% तक चली गई थी। उसके बाद मौतें रोकने में थोड़ी कामयाबी जरूर मिली, लेकिन इस मामले में अमेरिका और ब्राजील भारत से अब आगे निकल गए हैं।

मरीजों के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर पहुंचे ब्राजील में मृत्युदर आधी रह गई

दुनिया में सबसे ज्यादा मरीजों वाले अमेरिका में पहले हर 100 में से 6 मरीजों की मौत हो रही थी, लेकिन अब वहां 100 में से सिर्फ 1 मरीज की जान जा रही है। इसी तरह मरीजों के मामले में अमेरिका के बाद दूसरे स्थान पर पहुंचे ब्राजील में मृत्युदर आधी रह गई है। वहां दर पहले 5.8% थी, अब सिर्फ 2.6% रह गई है।

भारत में सबसे ज्यादा 6,309 मौतें महाराष्ट्र और 2481 दिल्ली में हो चुकी हैं। यानी, देश की 46% मौतें इन्हीं दो राज्यों में हुई हैं। तमिलनाडु 1266 मौतों के साथ तीसरे और गुजरात 889 मौतों के साथ चौथे स्थान पर बना हुआ है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
यह फोटो अहमदाबाद की है। संक्रमित मरीज की मौत होने के बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाते समय स्वास्थ्यकर्मियों को पीपीई किट पहनकर रखना पड़ती है। -फाइल फोटो


from Dainik Bhaskar /national/news/in-the-us-6-out-of-every-100-patients-were-dying-earlier-but-now-this-figure-is-reduced-to-only-one-there-is-no-significant-improvement-in-india-127482856.html
via IFTTT

टिप्पणी पोस्ट करें

0 टिप्पणियां