15 हजार तक के मोबाइल की शॉर्टेज, एसी-लैपटॉप की बिक्री 60% पहुंची

अनलॉक की शुरुआत एक जून से हो गई है। आठ जून यानी सोमवार से होटल-रेस्त्रां के साथ ही कुछ राज्यों में मॉल भी खुल रहे हैं। उम्मीद है बाजार में रौनक लौटेगी। ऐसे में भास्कर ने उपभोक्ताओं से जुड़े कुछ सेक्टर्स की स्थिति जानी। इंडस्ट्री चैंबर एसोचैम के सेक्रेटरी जनरल दीपक सूद के मुताबिक, चरणबद्ध तरीके से अर्थव्यवस्था खुल रही है। दो-तीन महीने बाद बाजार में स्थिरता देखने को मिलेगी। कुछ क्षेत्रों में रिकवरी तेज हो रही है। जैसे स्टील का उत्पादन करीब 50-60 फीसदी हो रहा है, निर्यात के ऑर्डर भी आ रहे हैं।

देशभर मेंं गाड़ियों के 90 फीसदी शोरूम खुले, कपड़ों की जो दुकानें खुल रहीं हैं, वहां ग्राहक आनाशुरू

सोना: राजस्थान, कर्नाटक, केरल में ग्राहक बढ़े, कारोबार शुरू

इंडियन बुलियन एंड ज्वैलर्स एसोसिएशन के नेशनल प्रेसिडेंट पृथ्वीराज कोठारी ने कहा कि ट्रेन, बस आदि चालू हो जाएंगी तब ग्राहक और बढ़ेंगे। हालांकि कर्नाटक, केरल, राजस्थान आदि राज्यों में दुकानों पर ग्राहक बढ़ रहे हैं। सामान्य दिनों की तुलना में 20% कारोबार शुरू हो गया है।

वहीं, मुंबई ज्वैलर्स एसोसिएशन के उपाध्यक्ष कुमार जैन ने कहा कि देश का सबसे बड़ा सोने का बाजार मुंबई के झवेरी मार्केट में शुक्रवार को पहले दिन करीब 10-15% कारोबार हुआ। यहां साढ़े चार लाख कारीगर थे, लेकिन अभी 35 हजार आ रहे हैं।

ऑटो: देशभर में जून में एक लाख कार बिकने की उम्मीद
मारुति सुजुकी के एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर, मार्केटिंग एंड सेल्स शशांक श्रीवास्तव कहते हैं कि मई माह के दौरान ऑटो इंडस्ट्री ने करीब 60 हजार कारें बेची थीं, हमें उम्मीद है कि जून माह के दौरान ऑटो कंपनियां एक लाख कार बेच पाएंगी।

फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) के सीईओ सहर्ष दमानी ने कहा कि देशभर में कुल 25 हजार वाहनों के डीलर हैं। इनमें से 90 फीसदी डीलरशिप खुल गई हैं। दो-तीन और चार पहिया वाहनों की बिक्री 15 से 20 फीसदी हो रही है।

कपड़े: जो दुकानें खुलीं वहां 40 फीसदी ग्राहकी लौट आई

क्लोदिंग मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया के चीफ मेंटर राहुल मेहता ने कहा कि अभी तमिलनाडु, मुंबई और दिल्ली में मैन्यूफैक्चरिंग यूनिट्स नहीं खुली हैं। इसलिए इन स्थानों पर उत्पादन नहीं हो पा रहा है। 25 मई तक 22 फीसदी फैक्ट्री खुली थीं। अभी मॉल आदि बंद हैं।

8 जून के बाद और स्टोर खुलेंगे, तो ग्राहकी भी बढ़ेगी। अभी देश में करीब 40 फीसदी दुकानें खुल रही हैं। जो दुकानें खुल रही हैं वहां 40 फीसदी तक ग्राहकी लौट आई है। फेस्टिव सीजन आते-आते स्थिति सामान्य हो जाएगी।

मोबाइल: ऑनलाइन पढ़ाई के कारण स्टोर्स में मांग बढ़ी

ऑल इंडिया मोबाइल रिटेलर्स एसोसिएशन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट विभूति प्रसाद ने कहा कि ग्राहक 15 हजार से कम कीमत के मोबाइल खरीद रहे हैं। ऑनलाइन पढ़ाई के कारण मांग बढ़ी है। स्टोर पर इस सेगमेंट के फोन की आपूर्ति नहीं हो पा रही है।

थोक कारोबारी तरविंदर सिंह ने कहा कि अभी आवश्यक होने पर ही ग्राहक मोबाइल खरीद रहे हैं। जिन दुकानदारों पर माल है उनके पास ग्राहकी है। 10 से 15 हजार रुपए की रेंज के मोबाइल की सर्वाधिक मांग है। अधिकतर दुकान वालों के पास स्टॉक की शॉर्टेज हो गई है।



आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
10 से 15 हजार रुपए की रेंज के मोबाइल की सर्वाधिक मांग है। अधिकतर दुकान वालों के पास स्टॉक की शॉर्टेज हो गई है। -प्रतीकात्मक फोटो


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3h3pp8z
via IFTTT
Previous
Next Post »