Special Train में सफर करने से पहले पढ़ लें ये नियम

Special Train


रेलवे ने Special Train  का संचालन 12 मई से शुरू कर दिया है। ऐसे में ट्रेन में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए रेलवे  की ओर से दिशा निर्देश जारी किए गए हैंं। इनका पालन न करने वाले यात्री को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। 

स्‍पेशल ट्रेन की यात्रा करने वाले यात्रियों को 90 मिनट पहले ही स्टेशन पहुंचना होगा। दरअसल, रेलवे यह सुनिश्चित कर लेना चाहती है कि यात्रा करने वाले यात्री पूरी तरह स्वस्थ हों, इसलिए उनकी स्वास्थ्य जांच होगी। स्‍टेशन पर हुई जांच में पूरी तरह स्‍वस्‍थ पाये जाने के बाद ही यात्रा की अनुमति दी जाएगी। यात्री को स्‍टेशन और यात्रा के दौरान मास्‍क लगाना और एक दूसरे से दूरी बनाकर रखना जरूरी होगा। सभी यात्रियों को आरोग्‍य सेतु एप्‍लीकेशन डाउनलोड करने की सलाह दी गई है।


इन 
 Special Train में यात्रा के लिए सात दिन पहले टिकट लिया जा सकता है। टिकट केवल आइआरसीटीसी की वेबसाइट या मोबाइल एप से बुक किया जा सकता है। किसी एजेंट को अनुमति नहीं है।


स्पेशल राजधानी ट्रेनों के शुरु होने के पहले दिन कुल 15 चालू अपने गंतव्य की ओर रवाना होंगी। यात्रियों को अपने साथ ट्रेन में चद्दर, तौलिया के साथ भोजन व पानी लेकर चलना होगा। हालांकि रेलवे ने कहा कि ट्रेन में एयरकंडीशनर का तापमान सामान्य रखा जाएगा। सभी डिब्बे एयरकंडीशन युक्त फर्स्ट, सेकंड और थर्ड एसी क्लास के होंगे। राजधानी ट्रेन में पहले से निर्धारित किराया ही वसूला जाएगा, लेकिन इसमें खान-पान का चार्ज शामिल नहीं होगा।

Special Train


स्पेशल राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन होने के बावजूद इसके टिकट के साथ कैटरिंग चार्ज नहीं वसूला जाएगा। प्रीपेड भोजन अथवा ई-कैटरिंग जैसे प्रावधान नहीं हैं। यानी यात्री को अपनी पूड़ी व सब्जी पर ही भरोसा करना होगा। आइसीआरसीटी बोतलबंद पानी और कुछ सीमित पैकेट बंद खाने के सामान भुगतान के साथ उपलब्ध कराएंगे।


खानपान का करना होगा भुगतान


अगर किराया राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों के बराबर लिया जा रहा है, इसका मतलब यह नहीं है कि आपको इन ट्रेनों में खानपान मुफ्त में मिलेगा। रेलवे का कहना है कि उसने रेल के किराये में खानपान का पैसा नहीं लिया है, इसलिए यात्रियों को खानपान का भुगतान करना होगा। यात्रियों खाने में डिब्बाबंद भोजन दिया जाएगा, जो ट्रेन की पैंट्री में न पककर कहीं बाहर से चढ़ाया जाएगा। रेलवे ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि ट्रेन में डिब्बाबंद भोजन तो दिया जाएगा, लेकिन पानी का बोतल नहीं दिया जाएगा। कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर ऐहतियातन रेलवे ने यह कदम उठाया है। इसलिए यात्रियों को पीने के लिए पानी अपने घर से ही लाना होगा।


रेलवे का कन्फर्म टिकट ही आपका पास


ट्रेन पकड़ने के लिए कन्फर्म टिकट के अलावा किसी अन्य पास की जरूरत नहीं पड़ेगी। यही कन्फर्म टिकट यात्री को स्टेशन पहुंचाने वाली गाड़ी के ड्राइवर के लिए भी पास के रूप में मान्य होगा।


कन्फर्म टिकट जरूरी


स्टेशन परिसर में प्रवेश के लिए ट्रेन का वैध टिकट होना जरूरी है। स्टेशन पर हुई जांच में पूरी तरह स्वस्थ पाये जाने के बाद ही यात्रा की अनुमति दी जाएगी। यात्री को स्टेशन और परी यात्रा के दौरान मास्क लगाना और एक दूसरे से दूरी बनाकर रखना जरूरी होगा। 

सभी यात्रियों को आरोग्य सेतु एप्लीकेशन डाउनलोड करने की सलाह दी गई है। इन स्पेशल ट्रेनों में यात्रा के लिए सात दिन पहले टिकट लिया जा सकता है। टिकट केवल आइआरसीटीसी वेबसाइट अथवा मोबाइल ऐप से बुक किया जा सकता है। किसी रेलवे रिजर्वेशन एजेंट को टिकट बुक करने की अनुमति नहीं है।

 टिकटो के रद होने से रोकने के लिए  नियमों को सख्त बनाया गया है इसके तहत टिकट रद कराने पर 50 फीसद किराए की राशि काट ली जाएगी। टिकट रद भी 24 घंटे पहले कराना होगा।

Previous
Next Post »