महिलाओं को बराबरी का हिस्सा दिलाना चाहती हैं भूमि , बोलीं- 'मेरे लिए सबसे अहम है इन्हें किरदारों में अच्छी तरह पेश करना'

‘दम लगा के हईशा’ फिल्म से बॉलीवुड में एंट्री करने वालीं भूमि पेडनेकर लगातार कई बेहतरीन फिल्मों का हिस्सा रही हैं। ‘टॉयलेट’, ‘शुभ मंगल सावधान’, ‘बाला’, ‘सांड की आंख’ और ‘सोन चिरैया’ जैसी कई अलग-अलग फिल्मों के जरिए भूमि ने दमदार महिलाओं के किरदारों को दर्शकों के सामने प्रस्तुत किया है।

अपने किरदारों पर बात करते हुए भूमि ने दैनिक भास्कर को बताया, ‘मेरे लिए सबसे अहम बात यह है कि मैं स्क्रीन पर महिला किरदारों को लोगों के सामने किस तरह प्रस्तुत करती हूं। सिनेमा में लोगों की सोच को बदलने की ताकत है और मुझे लगता है कि हम महिला किरदारों के जरिए समानता और स्वतंत्रता के संदेश को सभी लोगों तक पहुंचा सकते हैं। मैंने हमेशा ऐसे ही किरदारों की तलाश की है और इन किरदारों को पर्दे पर पूरे दिल से निभाया है। मैं खुशकिस्मत हूं कि मुझे ऐसे किरदारों को निभाने का मौका मिला, जो हटकर थे और जिन्होंने अपनी अलग पहचान बनाई।’

भूमि सिनेमा के जरिए लोगों को इस बात का एहसास कराना चाहती हैं कि आज भी महिलाओं को समाज में बराबरी का दर्जा हासिल नहीं है और उन्हें यह दर्जा हासिल होना ही चाहिए। वह कहती हैं, ‘मैं लगातार ऐसी महिलाओं की तलाश करती रहूंगी, जिनकी कहानियों को मैं पर्दे पर लोगों के सामने प्रस्तुत करना चाहती हूं। मुझे लगता है कि जब लोग ऐसी महिलाओं और उनकी जिंदगी, उनके संघर्ष, उनके दर्द, उनके सपने, और उनकी जीत को देखते हैं, तो इससे लोगों के नजरिए में भी बदलाव आ सकता है’।

आखिरी बार फिल्म पति पत्नी और वो में नजर आ चुकी भूमि जल्द ही अक्षय कुमार की फिल्म 'दुर्गावती' के साथ-साथ, अलंकृता श्रीवास्तव की 'डॉली किट्टी’ और वो ‘चमकते सितारे' में लीड रोल में नजर आएंगी।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Bhumi Pednekar wants to get women an equal share in society with the best characters, said- 'The most important thing for me is to present these characters well'


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/2Wx3hu6
via IFTTT
Previous
Next Post »