गुरमीत चौधरी ने याद किए पुराने दिन, बोले- 'लोग हमारी तस्वीरें मंदिर में भगवान के साथ रखने लगे थे'

'रामायण' शो के रीमेक को दंगल टीवी पर दोबारा प्रसारित किया जा रहा है। 'रामायण' में राम की भूमिका गुरमीत चौधरी ने निभायी थी, जबकि सीता के रोल में उनकी पत्नी देबिना बनर्जी थीं। इस रामायण का निर्माण भी सागर आर्ट्स ने किया है। हाल ही में दैनिक भास्कर से बातचीत के दौरान गुरमीत ने रामायण से जुडी कुछ बातें शेयर की।

राम-सीता किरदार निभाकर शादी करना ये हमारे देश में पहली बार हुआ हैं: 'रामायण' मेरे दिल के बहुत ही करीब हैं। सबसे पहले वो देबिना के साथ(गुरमीत की पत्नी) मेरा पहला शो था। हम पहले ऐसे एक्टर्स होंगे जिन्होंने इतने आइकोनिक कैरेक्टर निभाने के बाद रियल लाइफ में शादी की। हम दोनों आज जब हमारा रामायण देखते हैं तो पुरानी यादों को ताजा करते हैं। आज के वक्त में इस तरह के मैथोलॉजिकल शो देखना भी बहुत जरूरी हैं, इसमें बहुत कुछ सीखने को हैं। अब जब हम सभी को वक्त मिला हैं तो इसे गवाना नहीं चाहिए।

हमारे शो का वीएफएक्स और स्पेशल इफेक्ट्स काफी अच्छा हैं: इस बात से इंकार नहीं कर सकता की ऑडियंस बंट चुकी हैं क्योंकि रामानंद सागर की रामायण भी फिर से टेलीकास्ट किया गया। वैसे हमारा रामायण और पुराना रामायण एक ही प्रोडक्शन हाउस ने बनाया हैं इसीलिए इमोशंस और कहानी भी एक ही हैं। फर्क सिर्फ टेक्नोलॉजी का हैं। हमारे शो का वीएफएक्स और स्पेशल इफेक्ट्स काफी अच्छा हैं और थोड़ा डिटेलिंग भी हैं।

हमारी तस्वीर मंदिर में रखते थे लोग: शो की शूटिंग के दौरान हमें इसकी पॉपुलैरिटी के बारे में इतना कुछ पता नहीं होता था। एक डेढ़ महीने बाद हमें लोग मैसेज करने लगे तब समझ आया की हमारा शो हिट हो गया हैं। लोग मेरी और देबिना की फोटो अपने मंदिर में भगवान की फोटो के पास रखा करते थे। हम केवल 21 साल के थे और लोग हमें भगवान समझते थे। जब बाहर निकलते तो लोग हमारे पांव छूते और पैसे थमा जाते, जिनमे 101, 501, 1001 रूपए शुभ तौर पर दिया जाता था।

'रामायण' के बाद 6 महीनों तक मैंने और देबिना ने रिजेक्ट किया काम: 'रामायण' के बाद, हमें शिव, विष्णु कई भगवान के किरदार करने के ऑफर मिले मगर हमने मना कर दिया। हमारी इंडस्ट्री बहुत जल्दी टाइप कास्ट कर देती हैं, जो हम नहीं चाहते थे। तकरीबन 6 महीनों तक मैंने और देबिना ने काम को रिजेक्ट किया ताकि हम कुछ अलग कर पाए। हम काफी यंग थे और नहीं चाहते थे की सिर्फ कॉस्ट्यूम ड्रामा का हिस्सा बने। हम टाइप कास्ट नहीं होना चाहते थे। उस वक्त थोड़ा कठिन फेज था लेकिन वो हमारा करियर का सबसे सही फैसला था।

लॉकडाउन की वजह से फिल्म की शूटिंग रोकनी पड़ी: जयपुर में मैं अपनी आगामी फिल्म 'द वाइफ' की शूटिंग कर रहा था हालांकि इस लॉकडाउन की वजह से हमें अपनी शूटिंग रोकनी पड़ी। हम सभी इस लॉकडाउन के खत्म का इंतजार कर रहे हैं ताकि फिर से अपना काम शुरू करें।



Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today
Gurmeet Chaudhary remembered the old days, said - people started putting our pictures with God in their temple


from Dainik Bhaskar https://ift.tt/3duz6uh
via IFTTT
Previous
Next Post »