अब तक 3664 पॉजिटिव; योगी सरकार ने ट्रांसफर पर लगाई रोक, मुरादाबाद में घर भेजने की मांग को लेकर सड़क पर उतरे श्रमिक


उत्तर प्रदेश में पिछले 24 घंटे के दौरान कोरोनावायरस संक्रमण के मंगलवार को 112 मरीज सामने आए हैं। अब प्रदेश में कुल मरीजों की संख्या 3664 हो गई है। वहीं आगरा में 12 नए मरीज मिलने के बाद अब तककुल संख्या 777 हो गई है।कोरोना वायरस की वजह से जारी लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के ट्रांसफर पर रोक लगा दी है। इस बीच मुरादाबाद में बुधवार को बिहार के सैकड़ों मजदूर सड़क पर आए गए। उन्होंने प्रशासन से मांग की है कि उन्हें घर भेजने की व्यवस्था की जाए। अधिकारियों का कहना है कि बिहार सरकार की मंजूरी मिलने के बाद ही उन्हें यहां से भेजा जाएगा।
लखनऊ के केजीएमयू में 10, फर्रुखाबाद के छह, नोएडा में छह, कन्नौज के पांच, सिद्धार्थनगर में पांच, जालौन में तीन, गोरखपुर में दो, महारजगंज में एक हापुड़ में एक, मेरठ में तीन, बिजनौर में दो, गोरखपुर में तीन, फिरोजाबाद में एक, कासगंज में एक और बुलंदशहर में एक कोरोना संक्रमित मिला है जिसके बाद यूपी में संक्रमितों की संख्या 3664 हो गई है।
यूपी सरकार ने ट्रांसफर पर लगाई रोक
कोरोनावायरस की वजह से जारी लॉकडाउन के बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने सरकारी अधिकारियों और कर्मचारियों के ट्रांसफर पर रोक लगा दी है। अब ट्रांसफर पॉलिसी के तहत कोई भी ट्रांसफर नहीं हो सकेगा। इसके आदेश मंगलवार को मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने जारी कर दिए।
प्रशासन की तरफ से जारी आदेश में हालांकि अपरिहार्य स्थिति में मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के अनुमोदन से ट्रांसफर किए जा सकेंगे। साथ ही किसी विभाग से कर्मचारी के रिटायर होने, त्यागपत्र देने या निलंबन होने से खाली पद को विभागीय स्तर पर ही भरा जाएगा।
मुरादाबाद में सड़कों पर उतरे श्रमिक सड़क पर ही बैठ गए
मुदराबाद में घर जाने की मांग लेकर सड़क पर उतरे मजूदर सड़क के किनारों पर ही बैठ गए। अधिकारी उन्हें लगातार समझाने की कोशिश कर रहे हैं।

मुदराबाद में घर जाने की मांग लेकर सड़क पर उतरे मजूदर सड़क के किनारों पर ही बैठ गए। अधिकारी उन्हें लगातार समझाने की कोशिश कर रहे हैं।

मुरादाबाद में काम कर रहे बिहार के कामगार बुधवार को यहां के असालतपुरा में एकत्र हो गए। ये लोग प्रशासन से उन्हें घर वापस भेजने की व्यवस्था की मांग कर रहे थे। एडीएम ने बताया कि असालतपुरा को हॉटस्पॉट घोषित किया गया है इसलिए यहां से किसी को जाने की इजाजत नहीं दी जाएगी। हम बिहार सरकार से सम्पर्क कर रहे हैं। अगर वहां से इनको भेजने की मंजूरी मिल जाती है तो इनको यहां से भेजने की व्यवस्था की जाएगी।
वाराणसी में अब तक 54 लोग स्वस्थ हुए

बनारस के मणिकर्णिका घाट के प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजिंग करते कर्मचारी। घाट पर शवों को इसी रास्ते से ले जाया जाता है।
बनारस के मणिकर्णिका घाट के प्रवेश द्वार पर सैनिटाइजिंग करते कर्मचारी। घाट पर शवों को इसी रास्ते से ले जाया जाता है।

वाराणसी में अब कुल 85 केसों में 54 लोग स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं और एक कीमौत हुई है। अभी152 लोगों की रिपोर्ट आनी बाकी है। दवा कारोबारी के संपर्क में आये 12 लोग अभी तक ठीक हो चुके हैं। 30 एक्टिव केस अभी बचे हैं।वहीं बाबतपुर एयरपोर्ट पर विमान सेवाओं को लेकर तैयारियां की जा रही है। पुरे एरिया को सेनिटाइज कर सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखकर इंट्री से लेकर काउंटर तक को लोगो के लिए कैसे आगे खोला जाएगा तैयारियां चल रही हैं। दूसरी ओरमणिकर्णिका द्वार को भी सैनिटाइज किया जा रहा है। घाट तक शवों को इसी मार्ग से ले जाया जाताहै।







news source 
Previous
Next Post »