122 नए पॉजिटिव केस सामने आए, एक की मौत; जयपुर में बड़ीं संख्या में सड़कों पर निकले लोग, कई जगह बनी जाम की स्थिति

राजस्थान में मंगलवार को 122 नए पॉजिटिव केस सामने आए। इनमें डुंगरपुर में 48, पाली में 29, नागौर में 16, उदयपुर में 10, कोटा में 5, जयपुर, प्रतापगढ़, झुंझुनू में 2-2, दौसा, झालावाड़, धौलपुर, सिरोही, चूरू, टोंक, अलवर और अजमेर में 1-1 संक्रमित मिला। जिसके साथ कुल संक्रमितों का आंकड़ा 5629 पहुंच गया। साथ ही भरतपुर में एक मौत भी रिकॉर्ड की गई। जिसके बाद कुल मौतों का आंकड़ा 139 पहुंच गया।

लॉकडाउन 4.0 की गाइडलाउन जारी होने के बाद सड़कों पर निकले लोग

जयपुर में लॉकडाउन 4.0 की शुरुआत के साथ अजीबोगरीब स्थिति पैदा हो गई। यहां पर कर्फ्यू में ढील को लेकर काफी असमंजस पैदा हो गया। लोग अपने ऑफिस के लिए निकल पड़े। जिसके बाद सड़कों पर लंबा जाम लग गया। काफी संख्या में वाहन नॉन कफ्यू एरिया से कर्फ़्यू एरिया में चले गए। इसके बाद कर्फ़्यू ग्रस्त इलाकों के अंदर मौजूद पुलिस ने चालकों को समझाइश कर वापस भेजा।

निगेटिव दो मरीजों के साथ पॉजिटिव को भी कर दिया डिस्चार्ज, 16 घंटे बाद दोबारा लाए अस्पताल
डूंगरपुर जिला अस्पताल में मेडिकल कॉलेज द्वारा बनाए कोविड-19 डेडीकेटेट अस्पताल में डॉक्टरों की गंभीर लापरवाही सामने आई है। डॉक्टरों ने रविवार रात निगेटिव रिपोर्ट आने के बाद दो मरीजाें के साथ एक पॉजिटिव मरीज को भी डिस्चार्ज कर दिया। हैरानी की बात है कि सोमवार सुबह 9 बजे तक अस्पताल प्रबंधन को अपनी इस बड़ी भूल का पता तक नहीं चला। इसके बाद अानन फानन में उसे वापस लाया गया। पॉजिटिव मरीज अपने गांव में 16 घंटे रहा।

दूसरे राज्यों के लिए बसें चलाने को लेकर वार्ता जारी : गहलोत

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश के जिन क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा हुआ है उन क्षेत्रों को छोड़ कर सभी जगहों पर काॅमर्शियल एक्टिविटी शुरू की जाएंगी। अंतरराज्यीय बस परिवहन को लेकर अन्य राज्यों के साथ बातचीत चल रही है। प्रवासी मजदूर पैदल नहीं चलें, इसकी व्यवस्था भी की जा रही है। स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल या ऐसी जगह जहां ज्यादा लोग इकट्ठे होते हैं, वह अभी बंद रखने पड़ेंगे। राजस्थान में अब तक 5 लाख 80 हजार लोग बाहर से आ चुके हैं इनमें से 581 लोग कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं। केंद्र की ओर से जोन बनाने की जो छूट राज्यों को दी गई है उसका लाभ मिलेगा क्योंकि हर राज्य की अलग-अलग स्थिति होती है।

जोधपुर में पॉजिटिव से निगेटिव हुई महिला ने स्वस्थ बच्ची काे जन्म दिया

एमडीएमएच में कोरोना पॉजिटिव से निगेटिव हुई जालोर की 28 वर्षीय महिला ने सोमवार को 2.7 किग्रा की बच्ची को जन्म दिया। डिलीवरी सिजेरियन हुई। महिला 11 मई को जालोर में पॉजिटिव आई थी। गर्भवती होने से उसे एमडीएमएच जोधपुर रेफर किया। यहां महिला के 2 टेस्ट निगेटिव आए तो डिलीवरी कराना तय हुआ। सोमवार सुबह डॉ. संतोष खोखर, डॉ. विनीता शर्मा और डॉ. अस्मिता बानो ने सीजेरियन डिलीवरी कराई। जच्चा-बच्चा दोनों स्वस्थ हैं। डॉ. बानो ने बताया कि जब सीनियर डॉक्टरों के साथ ऑपरेशन शुरू किया तो हिम्मत मिली और सफल रहा तो बहुत अच्छा लग रहा है। ऑपरेशन में करीब आधा घंटा लगा। ऑपरेशन से पहले पूरी सेफ्टी मेजर लिए। खुद के कपड़ों के साथ छह और लेयर थी बॉडी पर, फिर ऑपरेशन किया।


जयपुर में 200 से अधिक डॉक्टर, पुलिस और नर्सेज भी प्लाज्मा देने के लिए तैयार

एसएमएस अस्पताल में जानलेवा बीमारी कोरोना का दर्द झेल रहे मरीजों को 200 से ज्यादा डॉक्टर, पुलिस और नर्सेज प्लाज्मा देने के लिए तैयार है। ट्रांसफ्यूजन मेडिसन विभाग में एंटीबॉडीज की जांच भी करा चुके है। जिन मरीजों में कोरोना खतरनाक स्तर तक पहुंच गया है, उनके लिए यह थैरेपी कारगर है। इसमें एंटीबॉडी इस्तेमाल किया जाता है। किसी खास वायरस के खिलाफ शरीर में एंटीबॉडी तभी बनता है, जब इंसान उससे पीड़ित होता है।


उदयपुर में एएसपी, 80 पुलिसकर्मियों की जांच रिपोर्ट निगेटिव

घंटाघर थाना के हॉट स्पॉट हेलावाड़ी क्षेत्र में ड्यूटी देने वाले एएसपी सिटी सहित 80 पुलिसकर्मियों की कोरोना जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। एएसपी सिटी गोपाल स्वरूप मेवाड़ा ने बताया कि हेलावाड़ी सहित उसके आस-पास हॉट स्पॉट एरिया में ड्यूटी देने वाले पुलिसकर्मियों के जांच कराने के लिए सूरजपोल थाने के सामने मेडिकल कैंप लगाया गया था। इसमें डीएसपी नेत्रपाल सिंह, राजीव जोशी, हितेश मेहता, इंस्पेक्टर संजय शर्मा, भवानी सिंह सहित घंटाघर, सूरजपोल, धानमंडी थाना और लाइन के जाब्ते ने सैंपल दिए थे।

कोटा में 7 और मरीज किए डिस्चार्ज

कोरोना को मात देकर कोटा के नए अस्पताल से 7 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इनमें से 6 मरीजों को आलनिया स्थित क्वारेंटाइन सेंटर व 1 मरीज को घर भेजा गया है। अधीक्षक डॉ. सीएस सुशील ने बताया कि हमारे यहां से अब तक 243 मरीज डिस्चार्ज किए जा चुके हैं। इनमें कोटा के अलावा बारां व झालावाड़ के मरीज भी शामिल हैं। साेमवार काे डिस्चार्ज किए गए मरीज प्रताप नगर, इंदिरा मार्किट, एक मीनार, कैथूनीपोल, बकरा मंडी, जयहिंद नगर निवासी हैं।

बीकानेर से मध्य प्रदेश के यह श्रमिक पैदल ही घर के लिए निकल पड़े।

33 में से 31 जिलों में संक्रमण पहुंचा

  • प्रदेश में संक्रमण के सबसे ज्यादा केस जयपुर में हैं। यहां 1627 (2 इटली के नागरिक) संक्रमित हैं। इसके अलावा जोधपुर में 1118 (इनमें 47 ईरान से आए), कोटा में 331, अजमेर में 257, उदयपुर में 411, टोंक में 150, चित्तौड़गढ़ में 159, नागौर में 190, भरतपुर में 129, बांसवाड़ा में 72, पाली में 161, जालौर में 97, जैसलमेर में 73 (इनमें 14 ईरान से आए), झालावाड़ में 50, झुंझुनूं में 60, भीलवाड़ा में 80, बीकानेर में 53, मरीज मिले हैं। उधर, दौसा में 39, धौलपुर में 28, अलवर में 36, चूरू में 47, राजसमंद में 53, सिरोही में 49, डूंगरपुर में 172, हनुमानगढ़ में 14, सीकर में 45, सवाई माधोपुर में 17, बाड़मेर में 33, करौली में 10, प्रतापगढ़ में 7 कोरोना मरीज मिल चुके हैं। बारां में 4 संक्रमित मिले हैं। जोधपुर में बीएसएफ के 50 जवान भी पॉजिटिव मिल चुके हैं। वहीं दूसरे राज्यों से आए 7 लोग पॉजिटिव मिले।

  • राजस्थान में कोरोना से अब तक 139 लोगों की मौत हुई है। इनमें जयपुर में 72 (जिसमें चार यूपी से), जोधपुर में 17, कोटा में 12, अजमेर में 5, भरतपुर, पाली और नागौर में 4-4, बीकानेर में 3, जालौर, करौली, अलवर, भीलवाड़ा, चित्तौड़गढ़ और सीकर में 2-2, उदयपुर, बांसवाड़ा, चूरू, प्रतापगढ़, सवाई माधोपुर और टोंक में 1-1 की मौत हो चुकी है।


आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
लॉकडाउन 4.0 में गाइडलाइन जारी होने के साथ ही मंगलवार को सड़कों पर लोगों की भीड़ नजर आई।


from Dainik Bhaskar /national/news/rajasthan-coronavirus-outbreak-lockdown-live-corona-cases-update-may-19-jaipur-jodhpur-kota-udaipur-ajmer-bharatpur-jhalawar-latest-news-127317792.html
via IFTTT
Previous
Next Post »